मेकअप भी एक कला है..आइए मेकअप के मुख्य फार्मूलों से आपको परिचित करवाएं

मेकअप भी एक कला है..आइए मेकअप के मुख्य फार्मूलों से आपको परिचित करवाएं

Young woman applying make-up in mirror, using brush, close-up सभी महिलाएं एवं युवतियां मेकअप करने की कला में पारंगत होना चाहती हैं पर यह कला धीरे-धीरे अभ्यास और सूझ-बूझ से ही आती है। इस कला की सबसे महत्त्वपूर्ण बात यह है कि मेकअप ऐसे तरीके से किया जाए कि वह पूर्णत: प्राकृतिक लगे। दोष-विहीन मेकअप किए गए चेहरे अपवाद स्वरूप ही देखने को मिलते हैं।
बहुत सी फिल्मी हीरोइनें एवं फैशन मॉडल, जिन्हें लोग रूप से रानी समझते हैं यदि बिना मेकअप किए हमारे सामने आएं तो हम निश्चित रूप से उनके चेहरे से नजरें फेर लेंगे। उचित प्रसाधनों का प्रयोग, सावधानी पूर्ण चुनी गई केश-सज्जा, लिबास आदि ऐसी बातें हैं जो उनके व्यक्तित्व को संपूर्णता प्रदान करती हैं।
makeup

आइए मेकअप के कुछ मुख्य फार्मूलों से आपको परिचित करवाएं।
क्रीम का प्रयोग तो आप करती हैं मगर क्रीम का प्रयोग करते हुए सदा एक बात का ध्यान रखना चाहिए कि क्रीम हमेशा नीचे से ऊपर और अंदर से बाहर की ओर लगानी चाहिए। ऐसा करने से त्वचा में खिंचाव नहीं पैदा होता।
आपको पाउडर के सही शेड का पता लगाते वक्त प्राय: परेशानी होती होगी। पाउडर के सही शेड का पता लगाने का आदर्श यह है कि उसका अपनी कलाई के भीतर की त्वचा से मिलान कीजिए। यदि पाउडर त्वचा से ठीक से घुलमिल जाए तो वह आपके लिए उपयुक्त है।
कार्यकारी या अधिकतर व्यस्त रहने वाली महिलाओं के लिए ‘आल-इन-वन फाउंडेशन’ उत्तम रहता है। यह प्रसाधन विक्रेताओं के यहां प्राप्य है। इसकी फिनिश भी उत्तम होती है और पाउडर के प्रयोग की भी आवश्यकता नहीं रह जाती।
makup1तैलीय बालों के लिए ‘लेमन-शैम्पू’ ही उपयुक्त रहता है। इससे बाल समतल, चमकदार, स्वस्थ और स्वच्छ रहेंगे।
अधिक बड़ी आंखों वालों के लिए पलक के ऊपर शेडो का गहरा शेड तथा उसके ऊपर एक हल्का और चमकदार शेडो उपयुक्त रहता है।
अब आपको महसूस नहीं होगा अकेलापन…अपनी पसंदीदा चीज पर करें फोकस

आधा कप दूध, थोड़ी सी ग्लिसरीन, बाइकार्बोंनेट आफ सोडा एक चुटकी और थोड़ा सा बोरेक्स लीजिए। इन तीनों को दूध में मिलाकर गरम करें। जब तीनों वस्तुएं घुल-मिलकर एक हो जाएं तो एक कप में रख लीजिए। स्नान करने से पहले चेहरे और गर्दन पर इसे लगाइए। यह आपकी त्वचा में निखार लाने के लिए एक उत्तम उबटन है।
इन सब उपायों को कुछ महीने आजमाने के बाद जब आप अपने आपको शीशे में देखेंगी तो निश्चय ही आप अपने आप पर मुग्ध हो उठेंगी।
– रोहित कुमार अग्रवाल
add-royal-copy

Share it
Top