मेकअप के कुछ नये फंडे… ध्यान रखे कि ड्रेस के अनुसार और अवसर के अनुसार हो मेकअप

मेकअप के कुछ नये फंडे… ध्यान रखे कि ड्रेस के अनुसार और अवसर के अनुसार हो मेकअप

makeupप्राचीन समय से ही सुंदर लगना महिलाओं को प्रिय लगता रहा है। तब नानी-दादी जो भी घरेलू उपाय खुद प्रयोग करती थीं, वही वे आगे बेटियों को बताती थीं। इसलिए वही पुराने उपाय आगे चलते जाते थे पर अब तो महिलाएं पढ़ लिखकर बहुत आगे तक जा चुकी हैं। अब उन्हें नये जमाने के साथ अपने सौंदर्य साधनों के फंडों को भी बदलना चाहिए, उन्हें छोड़ देना चाहिए पुराने प्रयोग और अपनाने चाहिए नये प्रयोग। बस ध्यान देना चाहिए कि नया प्रयोग आप पर फूहड़ न लगे। ड्रेस  के अनुसार और अवसर के अनुसार उनका प्रयोग करना चाहिए। रेड लिपस्टिक मानी जाती है कि बहुत लाउड लगती है। ऐसा नहीं है। यदि आप ब्राउनिश रेड या मैरूनिश रेड लगाती हैं तो यह अक्सर सब पर जंचती हैं। बिलकुल रेड लिपस्टिक सभी पर नहीं जंचती। हॉट रेड लिपस्टिक जब भी लगाएं, उसके साथ मेकअप बहुत कम करें। आई मेकअप भी बिलकुल हल्का करें। हॉट रेड लिपस्टिक के साथ डार्क मेकअप अच्छा नहीं लगता। वैसे आजकल रेड कलर फैशन में है।
पाउडर यदि कम मात्रा में एकसार चेहरे और गर्दन पर लगाया जाए तो चेहरा आकर्षक लगता है और पाउडर की मोटी परत लगाई जाए तो त्वचा पपड़ीदार फ्लैकी लगती है, इसलिए जब भी पाउडर लगाएं, एकस्ट्रा पाउडर को ब्रश से झाड़ कर कम कर दें। पुराने लोगों का मानना है कि पाउडर लगाने से महिला उम्र से बड़ी लगती हैं।
हाथों और पैरों की उंगलियों की नेल पॉलिश पहले लोग एक ही रंग की लगाते थे। बहुत सालों तक इसी प्रयोग को अपनाया जाता था। अब लोग हाथों और पैरों की उंगलियों पर अलग-अलग नेल पॉलिश लगाते हैं। पहले लिपग्लास बस 40 वर्ष तक की महिलाएं लगाती थीं पर अब 30 वर्ष
यूं बनाएं सांवली त्वचा को आकर्षक
के बाद लिपग्लास लोग अक्सर नहीं लगाते। फिर भी आप लिपग्लास लगाना चाहें तो पहले होंठों पर लिप बाम लगाएं, फिर लिप डिफाइनर से लिप लिफाइड कर उसमें लिपग्लास लगाएं ताकि लिपग्लास होंठों से बाहर न फैले। पहले महिलाएं लिपस्टिक लगाते समय लिप लाइनर से आउट लाइन बनाती थी और उसमें लिपस्टिक लगाती थी। नये फैशन में लिपस्टिक सीधी होंठों पर लगाई जाती है क्योंकि इससे नेचुरल लुक आती है। इससे होंठ सॉफ्ट रहते हैं।वैसे आजकल लाइट शेड की लिपस्टिक ज्यादा पसंद की जाती है। अगर आप आउटलाइन लगाना ही चाहते हैं तो हल्की आउट लाइन करें और उसे ब्लैंड कर लें। लिपस्टिक त्वचा से मेल करती लगाएं यह नया फंडा है। पहले लोग डेऊस और मेकअप अनुसार लिपस्टिक के रंग का चयन
कैसे करें मेकअप..अधिकतर युवतियों को नहीं होती सही जानकारी
करते थे, अब त्वचा से मेल खाती लगाते हैं। आंखों के प्राकृतिक रंग से मेल खाता आईशैडो लगाने से आंखों की तरफ ध्यान ही नहीं जाता । नये फंडे के अनुसार शैडो का रंग आंखों के प्राकृतिक रंग से विपरीत होना चाहिए जैसे ग्रीन अंाखों वाले को पर्पल, मोव, सिल्वर, गोल्ड या कोरल टोन वाला आई शैडो लगाना चाहिए। नीली आंखों वाले को लाइट पिंक पीच, कापर, ब्रांज और गोल्ड लगाना चाहिए। भूरी आंखों वालों को एमरल्ड ग्रीन, मोव, पर्पल, डीप प्लम शेड का प्रयोग करना चाहिए।[आप ये ख़बरें अपने मोबाइल पर  पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइटwww.royalbulletin.comऔर अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे]– सुनीता गाबा

Share it
Share it
Share it
Top