मूड अच्छा तो पूरा दिन अच्छा…उठते ही समाचार न सुनें..!

मूड अच्छा तो पूरा दिन अच्छा…उठते ही समाचार न सुनें..!

अगर सुबह उठने के बाद मूड अच्छा न हो तो सारा दिन बरबाद जाता है। सुबह अच्छे मूड के लिए जरूरी है कि रात में ठीक से सोया जाए और सुबह खुशगवार हो। यह तो कई शोध में साबित हो चुका है कि रात को जल्दी सोने वाले और सुबह जल्दी उठने वाले सकारात्मक होते हैं और उनका अपनी इच्छाशक्ति पर भी नियंत्रण होता है।
तैयारी करें: यदि आप अपनी सुबह चिंतामुक्त चाहती हैं तो सुबह की तैयारी रात में करके रखें जैसे बच्चों के बैग जमा दें, जूते पॉलिश कर दें, सब्जियां वगैरह काट कर रख दें। अगर आप भी कामकाजी हैं तो अपना भी बैग जमा लें और कपड़े भी रात को ही बाहर निकाल कर रख लें। एडवांस में काम करने से आप सुबह कम दबाव महसूस करेंगी। सुबह काम कम होगा तो आपका मूड भी अच्छा रहेगा।
फूल सूंघें: हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के शोध के मुताबिक, जो लोग सुबह उठते ही सबसे पहले फूल देखते हैं, वे ज्यादा खुश और ऊर्जावान रहते हैं। इसलिए आप भी सारा दिन खुश रहना चाहती हैं तो सुबह उठते ही सबसे पहले फूलों को देखें और सूंघें। आप रात में पलंग के सिरहाने के पास या रसोई में फूलों का गुलदस्ता फ्लावर वास में सजा कर सोएं। आपका मूड अच्छा रखने में ये फूल काफी मदद कर सकते हैं।
एक बार में उठ जाएं: जैसे ही अलार्म घड़ी बजे, आप एक बार में ही उठ जाएं। खुद से, खुद के लिए पांच-दस मिनट का वक्त न मांगें या न ही घड़ी या मोबाइल पर स्नूज बटन दबाएं। पहली बार में उठने की बजाय दूसरी बार में उठने पर आपको ज्यादा थकान महसूस होगी। इसलिए अलार्म को कमरे से बाहर कहीं रखें, जहां से आपको आवाज तो अच्छी तरह सुनाई दे लेकिन आप स्नूज बटन न दबाने पाएं। उसे सुनें और तुरंत बिस्तर छोड़ दें।
रूसी..सफेद बाल..बालों का गिरना…कुछ घरेलू प्रयोग से कर सकते हैं दूर, जानिए..!

सुधारें सोने का समय: अगर आप रात में सात-आठ घंटे की नींद लेती हैं तो आप सुबह बेहतर महसूस करेंगी। नींद पूरी होने के लिए जरूरी है कि आप वक्त पर सो जाएं। अगर आपको सुबह छह बजे उठना होता है और आप जल्दी सोने नहीं जा सकतीं तो सोने के वक्त को 15 मिनट पहले कर लें क्योंकि अगर आप एक साथ ऐसा करेंगी तो भी आपको नींद नहीं आएगी, क्योंकि आपकी नींद का वो वक्त नहीं है। हफ्ते दो हफ्ते तक 15 मिनट वक्त आगे खिसकाएं, जब तक आप आदर्श वक्त तक न पहुंच जाएं।
समाचार न सुनें: उठते ही समाचार सुनना आपको तनाव से भर देता है। अपने लिए कुछ सीमाएं तय करें, जैसे सुबह उठते ही टीवी पर समाचार नहीं देखेंगी, कम से कम 30 मिनट तक ईमेल चेक नहीं करेंगी। आप कोई मधुर धुन या अपने पसंदीदा गाने से सुबह की शुरूआत करें। संगीत बहुत अच्छा मूड बूस्टर है।
ग्रीष्म ऋतु में संतुलित आहार लें..

नींबू पानी पिएं: छह-सात घंटे की नींद के बाद अब आप उठती हैं तो आपके शरीर को पानी की बहुत जरूरत होती है। आप पानी पिएं और उसमें थोड़ा सा नींबू भी निचोड़ लें। इससे आपके शरीर में तुरंत ऊर्जा आ जाएगी।
रोशनी देखें और टहलें: रोशनी देखते ही आपका दिमाग सक्रिय हो कर नींद का हार्मोन मिलेटोनिन बनाना बंद कर देता है और आप केवल 15 मिनट में ही पूरी तरह से जागी और सक्रिय महसूस करेंगी। कई शोध भी यह साबित कर चुके हैं कि केवल 10 मिनट टहलने या स्ट्रेचिंग करने से शरीर में खून का दौरा बढ़ता है और नींद गायब हो जाती है।
– खुंजरि देवांगन

Share it
Top