मुजफ्फरनगर: हत्या के आरोप में जेल में बंद युवती ने दिया बच्ची को जन्म

मुजफ्फरनगर: हत्या के आरोप में जेल में बंद युवती ने दिया बच्ची को जन्म

मुजफ्फरनगर। हत्या के आरोप में जिला कारागार में बंद एक महिला कैदी ने आज सुबह एक बच्ची को जिला चिकित्सालय में जन्म दिया, लेकिन कुछ देर बाद ही नवजात बच्ची ने दम तोड़ दिया। महिला कैदी के परिजनों ने उससे बात करने से इंकार कर दिया, तो उसने उक्त हत्याकांड में ही एक आरोपी युवक से बात की, तो उसने भी युवती से बात करने से मना कर दिया। जानकारी के अनुसार मंसूरपुर क्षेत्र के गांव जड़ौदा में 6 जून 2016 को दीनमौहम्मद की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में मृतक दीनमौहम्मद के पुत्रा शुऐब ने गांव के ही जुनैद पुत्रा मेहरबान, जुबैर व शबनम पुत्री मुस्तकीम को नामजद कराया था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर शबनम पुत्रा मुस्तकीम को 120बी की मुल्जिम मानते हुए गिरफ्तार कर लिया था। 6 जून 2016 से शबनम जिला कारागार में बंद है। कल दोपहर शबनम को प्रसव पीड़ा हुई, तो उसे जिला चिकित्सालय लाकर भर्ती कराया गया, जहां उसने आज प्रातः के समय एक बच्ची को जन्म दिया, लेकिन कुछ देर बाद ही नवजात बच्ची की मौत हो गई।
उप्र में दूसरे चरण का चुनाव प्रचार थमा…15 फरवरी को होगा मतदान
उसके आग्रह पर पुलिस ने परिजनों को फोन मिलाकर बात कराई, तो उसके परिजनों ने बात करने से इंकार कर दिया। इसके बाद उक्त युवती ने दीनमौहम्मद हत्याकांड में मुख्य आरोपी जुनैद को फोन मिलवाकर उससे बात करनी चाही, तो जुनैद ने बात करने से इंकार कर दिया। बताया जा रहा है कि उक्त युवती से कोई भी मतलब वास्ता रखने से इंकार कर दिया। सूत्रों से यह भी पता चला है कि उक्त युवती की शादी चरथावल क्षेत्र के गांव कुटेसरा में हुई थी, लेकिन ससुरालियों से अनबन होने के कारण वह अपने मायके जड़ौदा में ही रह रही थी, जहां उसके सम्बंध् जुनैद से बन गए और इसी मामले में दीनमौहम्मद की हत्या हुई।

Share it
Share it
Share it
Top