मुजफ्फरनगर में महिलाओं से छेड़छाड़ नहीं, लेन-देन का निकला मामला

मुजफ्फरनगर में महिलाओं से छेड़छाड़ नहीं, लेन-देन का निकला मामला

chedchadमुजफ्फरनगर। शहर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत मिमलाना रोड़ पर दो पक्षों में महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले को लेकर थाने में दी गई तहरीर में पुलिस ने जांच में मामला महिलाओं से छेड़छाड़ के बजाय रुपयों के लेन-देन का पाया। इस मामले में कुछ वरिष्ठ भाजपा नेताओं ने मध्यस्था कर दोनों पक्षों में समझौता करा दिया। जानकारी के अनुसार शहर कोतवाली क्षेत्र में मिमलाना रोड़ पर दो दिन पूर्व श्रीमति बबीता ने शहर कोतवाली में तहरीर देकर भाजपा नेता कुलदीप खटीक पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया था।
पीएम बनने के बाद कल पहली बार.. गुजरात के भाजपा मुख्यालय में कदम रखेंगे मोदी
इस मामले में कुलदीप खटीक के भाई अरविंद कुमार की तरफ से भी कोतवाली में तहरीर दी गई थी, जिसमें दूसरे पक्ष पर घर में घुसकर महिलाओं से अभद्रता व हमला करने का आरोप लगाया गया था। दोनों पक्ष ही भाजपा से जुड़े हुए है, इस कारण इस मामले में कुछ वरिष्ठ भाजपा नेताओं ने मध्यस्था करते हुए पफैसला करा दिया। पुलिस ने भी जांच में मामला महिलाओं से छेड़छाड़ का नहीं पाया, बल्कि रुपयों के लेन-देन को लेकर विवाद हुआ था।
नोटबंदी पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र से पूछा, नोटबंदी से क्या लाभ..कब सुधरेंगे हालात
इस सम्बंध में पूर्व विधायक अशोक कंसल, पूर्व सभासद संजय गर्ग, विपिन चौहान, सुनील दर्शन आदि ने मध्यस्था करते हुए एक पक्ष से श्रीमति बबीता, श्रवण मोघा, राजू व पिंटू को बुलाया, जबकि दूसरे पक्ष से अरविंद कुमार कुलदीप खटीक, ब्रजमोहन, ऋषभ व आयुष जौहरी को बुलाकर दोनों पक्षों में समझा-बुझाकर फैसला करा दिया। इस मामले में श्रीमति बबीता द्वारा कोतवाली में दी गई तहरीर भी वापस ले ली गई। पूर्व विधायक अशोक कंसल द्वारा विवाद का शांतिपूर्ण तरीके से निपटारा कराए जाने पर दोनों ने संतोष जताया।
add-royal-copy

Share it
Share it
Share it
Top