मामला महिलाओं की स्वतंत्रता का

मामला महिलाओं की स्वतंत्रता का

बॉम्बे उच्च न्यायालय ने शनि सिंहणा मंदिर की ही भांति मुंबई की हाजी अली दरगाह में महिलाओं के प्रवेश पर लगी पाबंदी हटा दी। कोर्ट का फैसला आने के बाद जैसा कि होता आया है पक्ष और विपक्ष में प्रतिक्रियाओं का अंबार लग गया। जहां एक ओर अनेक महिलाओं ने कोर्ट के फैसले का समर्थन किया वहीं कुछ ने इसे धार्मिक आस्थाओं पर कोर्ट का दखल करार दिया है। जबकि महिलाओं का एक बड़ा वर्ग का कहना है कि इस प्रकार की महिला स्वतंत्रता से कुछ नहीं होने वाला, बल्कि कोर्ट को महिलाओं को रोजगार और राजनीति में बराबरी का दर्जा दिलवाना चाहिए, जिससे वो सशक्त हो सके और अपनी स्वतंत्रता का उचित लाभ उठा सकें।

Share it
Share it
Share it
Top