माई लॉर्ड मुझसे मेरे मरने की तारीख क्यों पूछ रहे 

माई लॉर्ड मुझसे मेरे मरने की तारीख क्यों पूछ रहे 

एक तरफ जहां भाजपा अपनी पार्टी के बुजुर्गों को जिम्मेदारी वाले कामों से बरी कर रही है तो वहीं सुप्रीम कोर्ट में 90 साल के वयोवृद्ध वकील अपनी पूरी लगन से अपने काम को अंजाम दे रहे हैं। संभवतः यही देख सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर ने हैरानी जताते हुए पूछ ही लिया कि आखिर जेठमलानी रिटायर्ड कब हो रहे हैं। इस पर जेठमलानी ने अपने चेहरे पर मासूमियत लाते हुए जो जवाब दिया उससे कोर्ट भी लाजवाब हो गया। दरअसल उन्होंने कहा कि ‘माई लॉर्ड यह क्यों पूछ रहे हैं कि मैं कब मरने वाला हूँ।’ इससे यह तो स्पष्ट हो गया कि जब तक इंसान के जिस्म में स्फूर्ति है वह लगन के साथ अपने काम को अंजाम दे सकता है, लेकिन भाजपा का शीर्ष नेतृत्व इससे इत्तेफाक नहीं रखता इसलिए उसने अपने अनुभवी और तेजतर्रार नेताओं को हाशिए पर लाकर बैठा दिया है। उसमें मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सबसे चर्चित मंत्री व उम्रदराज युवा नेता बाबूलाल गौर सहित अन्य हटाए गए मंत्री व मुख्यमंत्री शामिल हैं।

Share it
Top