मतदान रूपी प्यार से हारी नफरतः डीईओ

मतदान रूपी प्यार से हारी नफरतः डीईओ

मुजफ्फरनगर। जनपद मुजफ्फरनगर की सभी छह विधानसभाओं बुढ़ाना, चरथावल, खतौली, मीरापुर, बुढ़ाना तथा मुजफ्फरनगर पर शांतिपूर्ण तरीके व आपसी सद्भाव एवं सौहार्द्र के मध्य मतदान सम्पन्न होने पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने जनपदवासियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि मतदान को बिना किसी बाधा के सम्पन्न करने में सभी का सहयोग रहा है। इस चुनाव ने यह साबित किया है कि मुजफ्फरनगर वाकई मौहब्बतनगर है। यहां पर इस मतदान में मोहब्बत नफरत पर पूरी तरह से हावी रही अर्थात मुहब्बत की जीत हुई। सोमवार को नवीन मंडी स्थल पर गेस्ट हाउस में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी डीके सिंह ने कहा कि इस बार जनपद में नागरिकों ने मतदान करने में किसी भी प्रकार की कंजूसी नहीं की। उन्होंने खुले दिल से मतदान किया। उन्होंने लोकतंत्रा के महापर्व में अति उत्साह के साथ हिस्सा लिया। जनपद में पिछले चुनाव के मुकाबले 12.85 लाख अधिक मतदाताओं ने मतदान किया है। यही हमारी सबसे बड़ी उपलब्धि है। इससे सभी के प्रयास और मेहनत सार्थक हो गयी। उन्होंने इसके लिए सभी शिक्षण संस्थाओं, उसके प्रधानाचार्यों, छात्र-छात्राओं, अन्य संस्थाओं, पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के अतिरिक्त स्वीप की टीम का भी तहेदिल से आभार जताया। उन्होंने कहा कि मीडिया ने भी मतदान में सकारात्मक भूमिका का निर्वहन कर जनपद की अच्छी छवि पेश की है। इस चुनाव में पूरे देश ही नहीं बल्कि विदेशी मीडिया की भी निगाहें मुजफ्फरनगर पर लगी थीं। दुनिया में भी मुजफ्फरनगर को लेकर चर्चा हो रही थी, लेकिन यहां के निवासियों ने एक अटूट उदाहरण पेश करते हुए दंगों की कडुवी यादंे को भुलाते हुए आपसी प्यार व साम्प्रदायिक सौहार्द्र का एक उदाहरण पेश किया। चुनाव में सभी वर्गों ने नफरत को पूरी तरह से पराजित कर दिया। इस चुनाव ने यह साबित किया है कि मुजफ्फरनगर वास्तव में मौहब्बतनगर है।
व्यापमं घोटाला: सुप्रीम कोर्ट ने मप्र में 634 मेडिकल छात्रों की दाखिला प्रक्रिया रद्द की.!
उन्होंने कहा कि मुजफ्फरनगर शामली के बाद मतदान में आगे रहा है। मेरठ इससे पिछड़ा है। यह हमारे प्रयास की सफलता का परिचायक है। भयमुक्त तथा निष्पक्ष वातावरण प्रशासन की ओर से मतदाताओं को उपलब्ध कराया गया तथा मतदाताओं ने भी इसका भरपूर लाभ उठाते हुए जमकर मतदान किया। खतौली के मतदाताओं ने रिकार्ड मतदान किया है। उन्होंने कहा कि अब 11 मार्च को होने वाली मतगणना की तैयारी की जा रही है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि जब तक परिणाम न आये, किसी भी चौपाल पर चुनावी चर्चा के दौरान एक दूसरे पर कटाक्ष कदापि न किया जाए। हो सके तो चौपालों पर चुनावी चर्चा से परहेज करें, ताकि कोई आपसी सद्भाव को ठेस पहुंचाने में सफल न हो सके। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान जमा कराया गया असलाह 19 मार्च तक हर हाल में रिलीज कर दिया जायेगा। इस अवसर पर एसएसपी, एडीएम-एफ सुनील कुमार, सीओ नई मंडी मणिलाल पाटीदारी, सीओ सिटी डा. तेजवीर सिंह, कृषि उत्पादन मंडी समिति सचिव नरेंद्र सिंह आदि उपस्थित रहे।
 

Share it
Share it
Share it
Top