भारतीय गेंदबाजों ने मोहाली में इंग्लैंड को हिलाया

भारतीय गेंदबाजों ने मोहाली में इंग्लैंड को हिलाया

cricketमोहाली। ऑफ स्पिनर जयंत यादव, लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा और तेज गेंदबाज उमेश यादव की बेहतरीन गेंदबाजी से भारत ने इंग्लैंड को तीसरे क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शनिवार को बुरी तरह झकझोर दिया। इंग्लैंड ने आठ विकेट खोकर 268 रन बनाये। भारतीय स्पिनरों ने इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टेयर कुक के टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने के फैसले को सुबह सत्र में 92 रन पर चार विकेट चटकाकर सिरे से गलत साबित कर दिया। इंग्लैंड ने जॉनी बेयरस्टो (89) के दम पर दूसरे सत्र में सिर्फ एक विकेट गंवाया और चायकाल तक अपने स्कोर को पांच विकेट पर 2०5 रन पहुंचा दिया। बेयरस्टो ने 177 गेंदों की पारी में छह चौके लगाये। भारतीय गेंदबाजों ने अंतिम सत्र में इंग्लैंड के तीन विकेट और चटकाये और दिन की समाप्ति तक अपना पलड़ा भारी कर लिया। अंतिम सत्र में गिरे तीनों विकेट जडेजा, जयंत और यादव ने झटके। अपना दूसरा टेस्ट खेल रहे हरियाणा के जयंत ने जो रूट (15) और बेयरस्टो(89) को निपटाया जबकि जडेजा ने बेन स्टोक्स(29) और जोस बटलर(43) के विकेट लिये। यादव ने ओपनर हसीब हमीद(नौ) और क्रिस वोक्स(25) को पवेलियन भेजा।
ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने इंग्लैंड के कप्तान एवं ओपनर एलेस्टेयर कुक(27) को आउट किया। तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने मोइन अली(16) का विकेट लिया। यादव ने पहले दिन स्टम्प्स से पहले वोक्स को बोल्ड कर मेहमान टीम को गहरे संकट में डाल दिया। स्टम्प्स के समय आदिल राशिद चार और गैरेथ बैटी खाता खोले बिना क्रीज पर थे।
जयंत ने 15 ओवर में 49 रन पर दो विकेट, जडेजा ने 21 ओवर में 56 रन पर दो विकेट, यादव ने 16 ओवर में 58 रन पर दो विकेट, शमी ने 20 ओवर में 52 रन पर एक विकेट और अश्विन ने 18 ओवर में 43 रन पर एक विकेट लिया। मोहाली टेस्ट के लिये दोनों टीमों ने कुछ बदलाव किये। भारतीय टीम में दो बदलाव किये गये और करूण नायर को टेस्ट में पदार्पण का मौका मिल गया जिन्हें मैच से पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने टेस्ट कैप प्रदान कर राष्ट्रीय टीम में स्वागत किया। लोकेश राहुल के चोटिल होने के कारण बल्लेबाजी क्रम में बदलाव किया गया और नायर छठे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये उतरेंगे।
वहीं विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के चोटिल होकर इस मैच से बाहर होने के बाद पार्थिव पटेल को भी अंतिम एकादश में जगह मिल गयी जिन्होंने आठ वर्ष बाद टेस्ट टीम में वापसी की। दूसरी ओर इंग्लैंड ने तीन बदलाव किये और जोस बटलर, क्रिस वोक्स तथा गैरेथ बैटी को अंतिम एकादश में उतारा। हालांकि विशाखापत्तनम में 246 रन की बड़ी शिकस्त के बाद दबाव में दिख रही मेहमान टीम मोहाली में भी कुछ दम नहीं दिखा सकी और उसकी शुरूआत ही काफी खराब रही। भारत दौरे में इंग्लैंड की खोज माने जा रहे बल्लेबाज हमीद 31 गेंदों में एक चौके की मदद से मात्र नौ रन बनाकर यादव की गेंद पर रहाणे को कैच करा बैठे और भारत को पहली सफलता मिल गयी। अपना दूसरा टेस्ट खेल रहे युवा आफ स्पिनर जयंत ने रूट को ड्रिंक्स के बाद पहली ही गेंद पर पगबाधा कर पवेलियन लौटा दिया। रूट 13 गेंदों में तीन चौके लगाकर 15 रन बना सके। रूट के बाद एक छोर पर टिके हुये कुक ने 42 गेंदों में छह चौके लगाये और वह भी एक ओवर बाद 27 रन बनाकर पवेलियन लौट गये। इंग्लिश कप्तान को अश्विन ने विकेटकीपर पटेल के हाथों कैच कराया और 51 रन पर इंग्लैंड ने अपने तीन अहम बल्लेबाजों को खो दिया।
जजों की कमी पर चीफ जस्टिस ने केंद्र सरकार पर बोला हमला, कानून मंत्री ने भी खरी-खरी सुनाई
कुक ने गेंद को कट करने की कोशिश की और पटेल ने विकेट के पीछे शानदार कैच लपका। मोइन ने चौथे विकेट के लिये बेयरस्टो के साथ 36 रन की साझेदारी कर स्थिति को कुछ संभाला। लेकिन तेज गेंदबाज शमी की बाउंसर पर मोइन अली ने हुक किया और फाइन लेग पर मुरली विजय ने आसान कैच लपक लिया और इंग्लैंड का चौथा विकेट 87 के स्कोर पर गिर गया। मोइन ने 45 गेंदों में एक चौका और एक छक्का लगाकर 16 रन बनाये। लंच के बाद बेयरस्टो और स्टोक्स ने साझेदारी करते हुये भारतीय गेंदबाजों के दबाव को तोडऩे की कोशिश की। इस दौरान दोनों ने कुछ अच्छे शॉट््स भी लगाये। स्टोक्स थोड़े आक्रामक दिख रहे थे। लेकिन लेफ्ट आर्म स्पिनर जडेजा पर आगे बढ़कर मारने की कोशिश में वह गेंद की लाइन चूके और पटेल ने आसान स्टम्प कर दिया। स्टोक्स ने 59 गेंदों पर 29 रन में पांच चौके लगाये।
अब साइकिल से करिए आगरा से इटावा का सफर..अखिलेश कल करेंगे साइकिल हाइवे का लोकार्पण
इसके बाद बेयरस्टो और इस मैच के लिये इंग्लैंड की टीम में शामिल किये गये बटलर ने बेहतर बल्लेबाजी करते हुये चायकाल तक टीम को कोई और नुकसान नहीं होने दिया। बेयरस्टो ने अपने 50 रन 76 गेंदों में पूरे किये। चायकाल तक इंग्लैंड का स्कोर 205 रन पहुंच गया। बेयरस्टो 66 और बटलर 38 रन पर नाबाद थे। चायकाल के बाद जडेजा ने बटलर को आउट कर भारत को छठी सफलता दिलाई। बटलर का कैच कप्तान विराट कोहली ने लपका। बटलर ने 80 गेंदों पर 43 रन पर पांच चौके लगाये। अपने शतक की ओर बढ़ रहे इस साल के सबसे सफल बल्लेबाज बेयरस्टो को जयंत यादव ने पगबाधा कर भारत को बड़ी सफलता दिला दी। हालांकि बेयरस्टो ने डीआरएस मांगा लेकिन वह आउट होकर पवेलियन लौट गये। दिन का 89वां ओवर चल रहा था और गेंद उमेश यादव के हाथों में थी। यादव ने अपने ओवर की आखिरी गेंद पर वोक्स को बोल्ड कर दिया। यादव को अपनी मेहनत का शानदार फल मिला और भारत दिन की समाप्ति तक मजबूत स्थिति में पहुंच गया। वोक्स ने 70 गेंदों पर 25 रन में तीन चौके लगाये।आप ये ख़बरें अपने मोबाइल पर पढना चाहते है तो दैनिक रॉयलunnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे.

Share it
Top