बैडरूम को रखें साफ सुथरा…बिस्तर पर बैठकर न खाएं खाना

बैडरूम को रखें साफ सुथरा…बिस्तर पर बैठकर न खाएं खाना

bedroom-attic
अगर घर साफ न हो तो बीमारियां होने का खतरा बहुत अधिक बढ़ जाता है। अपने घर को साफ रखने के साथ-साथ जरूरी है कि आप अपने बिस्तर को भी साफ रखें। यह मानना है कि त्वचा संबंधी रोगों के विशेषज्ञों का। उनके अनुसार एलर्जी होने का मुख्य कारण बैक्टीरिया ही हैं जो हमारे गद्दों और तकियों पर पाए जाते हैं।
– सप्ताह में कम से कम एक बार तकियों के कवर व चादर को बदलें और गर्म पानी से धोएं।
– डनलप गद्दों की उम्र भी 5 से 7 वर्ष होती है। इनको समय रहते बदलें। रूई के गद्दों को साल में एक बार फिर से तैयार करवाएं ताकि रूई का गंद साफ हो सके और कवर भी धुल जाएं।
– तकिए की उम्र सिर्फ 3 से 5 साल ही होती है, इसलिए 5 साल बाद उसे जरूर बदलें।
– ओढऩे वाली चादर को भी सप्ताह में एक बार धोएं।
– महीने में एक बार गद्दों को धूप लगवाना बहुत जरूरी है।क्या सही हैं आपके पार्टी मैनर्स..बचकानी हरकत करते हैं तो बनेंगे हंसी के पात्र

– कंबल को सप्ताह में 1 बार वैक्यूम क्लीनर से साफ करें और हर तीन माह बाद उसे ड्राइक्लीन करवा कर कवर चढ़ा कर रखें। बिना कवर वाला कंबल माह में एकबार ड्राइक्लीन कराएं।
– कई घरों में लोग बिस्तर पर बैठकर ही खाना खाने लग जाते हैं। यह आदत आपकी सेहत के लिए बेहद गलत है क्योंकि खाने के अवशेष संक्र मण फैला कर आपको त्वचा संबंधी परेशानी दे सकते हैं।
– जूते चप्पलों को शू रैक में रखें। बैडरूम में न रखें।
– बैडरूम की अलमारियों को सप्ताह में एक बार साफ करें।
~ शिवांगी झाँबदैनिक रॉयल unnamedबुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे..] 

Share it
Top