बालों के लिए एक्सेसरीज

बालों के लिए एक्सेसरीज

पहले जमाने में भारी-भरकम केश-विन्यास बनाया जाता था और उस पर तरह-तरह के सजाने के साधन इस्तेमाल किये जाते थे लेकिन अब जमाना ऐसा नहीं है। यह सादगी एवं फटाफट काम करने का जमाना है और काम भी ऐसा जिसे सब देखते रह जायें।
बाल लंबे हों या छोटे, आज उन्हें सजाने के लिए ऐसी-ऐसी सहायक चीजें मौजूद हैं जिन्हें आदमी देखते ही रह जायें। वजह कुछ भी समझ सकते हैं कि आज किसी के पास इतना समय नहीं कि बालों को तरह-तरह का स्टाइल दे सके। वैसे भी यह जटिलता भरे फैशन का युग नहीं रह गया है। आज के फैशन में सादगी एवं साधारणता ज्यादा मिलेगी। तभी तो अपने परिधान से मिलते-जुलते रंग का जूड़ा पिन या फिर खूबसूरत डोरी बालों को नया अंदाज देने के लिए एक जरूरत बन गई है।
पुराने-समय में भी यूं तो बालों को सजाने के लिए कई साधन प्रयोग किये जाते थे। हमारी दादी-नानी के समय में चांदी के शीशफूल, जूड़े के कांटे या चांदी का पिनों का गुच्छा और परांदे मौजूद थे। पुराने समय की महिलाएं केश-विन्यास में इनका बखूबी इस्तेमाल किया करती थीं लेकिन जब इनका अधिकतर प्रयोग किसी जटिल एवं भारी-भरकम केश-विन्यास को और भी सुंदर बनाने के लिए किया जाता था। किन्तु आजकल केश विन्यास का मतलब इन एक्सेसरीज का प्रयोग करना मात्र रह गया है।
बाल छोटे हो या बड़े हों, उन्हें कोई स्टाइल देने की जरूरत ही नहीं रह गई। बाजार में इतनी एक्सेसरीज मौजूद हैं कि व्यक्तित्व में एकदम नयापन ही आ जाता है।

http://www.royalbulletin.com/कुछ-छोटी-बातें-और-कुकरी-टि/

गरमियों में सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली एक्सेसरीज होती है जूड़ा क्लिप। हालांकि आजकल शादी-विवाह आदि समारोहों में यह हर मौसम में पसंद किए जाने वाली एक्सेसरीज है। आजकल की अधिकतर महिलाएं जूड़ा क्लिप पसंद करती हैं क्योंकि इससे बहुत आराम मिलता है बालों को संभालने में। इनमें कई आकार एवं रंग होते हैं जिन्हें अपनी पसंद के अनुसार खरीद सकते हैं। बेहतरीन पकड़ वाली और प्लास्टिक के पारदर्शी रंगों से सजी चिमटी क्लिप बेहद खूबसूरत लगती हैं।
छोटे बालों के लिए बाजार में अन्य प्रकार की एक्सेसरीज भी मौजूद हैं। इसके लिए हेयरबैंड की कई किस्में बाजारों में उपलब्ध हैं। पहले तो यह माना जाता था कि ये कम उम्र की लड़कियों पर ही शोभा देते हैं किन्तु आजकल फीके रंगों एवं बुने हुए फैब्रिक के हेयरबैंड बाजार में उपलब्ध हैं जो मैच्योर लोगों पर बेहद खूबसूरत लगते हैं। इसके अलावा फैब्रिक हेयरबैंड का तो प्रचलन ही खूब बढ़ चला है। बच्चे हों या बड़े, सभी के ये अनुकूल बाजारों में उपलब्ध हैं।

http://www.royalbulletin.com/गर्मी-में-कैसे-करें-पैरों/

इसके अलावा बालों की चोटी बांधने के लिए कई प्रकार के रबर बैंड बाजारों में उपलब्ध हैं। अब तो बेहद ही खूबसूरत एवं रेशमी रबर बैंड का जमाना आ गया है। किसी पर फूल बना है तो किसी पर कंगन लटका है या किसी पर घुंघरू। कोई गजरे के स्टाइल में है तो कोई परांदे के। हां, परांदे की जगह अब खूबसूरत डोरियों ने ले ली है। विभिन्न रंगों में बुनी ये डोरियां मोती एवं छोटे-छोटे कपड़े के फूलों से सजी होती हैं।
- शिखा चौधरी

Share it
Share it
Share it
Top