बढ़त के लिये भारत-आस्ट्रेलिया में छिड़ा संघर्ष

बढ़त के लिये भारत-आस्ट्रेलिया में छिड़ा संघर्ष

धर्मशाला। ओपनर लोकेश राहुल (60) और श्रीमान भरोसेमंद चेतेश्वर पुजारा (57) ने शानदार अर्धशतकीय पारियां खेली लेकिन आस्ट्रेलिया के आफ स्पिनर नाथन लियोन ने जबर्दस्त गेंदबाजी करते हुये 67 रन पर चार विकेट लेकर भारत के खिलाफ चौथे और निणार्यक टेस्ट को दूसरे दिन रविवार को रोमांचक मोड़ पर पहुंचा दिया। भारत ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक 91 ओवर में छह विकेट पर 248 रन बना लिये हैं और वह आस्ट्रेलिया के पहली पारी के 300 रन की स्कोर से 52 रन पीछे है जबकि उसके चार विकेट बाकी है। मैच काफी रोमांचक हो चला है और दोनों ही टीमों में बढ़त के लिये जबर्दस्त संघर्ष छिड़ा हुआ है।
विश्व की नंबर एक टीम भारत एक समय दो विकेट पर 157 रन बनाकर काफी अच्छी स्थिति में था लेकिन उसने 221 रन तक जाते जाते अपने छह विकेट गंवा दिये। आफ स्पिनर लियोन ने इस दौरान भारत को चार विकेट लेकर सबसे ज्यादा आघात पहुंचाया।
लियोन ने पुजारा (57), करूण नायर (5) , कार्यवाहक कप्तान अजिंक्या रहाणे (46) और रविचंद्रन अश्विन (30) के विकेट झटककर आस्ट्रेलिया को वापस मुकाबले में ला दिया। इससे पहले तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने ओपनर मुरली विजय (11) और पैट कमिंस ने लोकेश राहुल (60) के विकेट झटके।
मुजफ्फरनगर : भाजपा विधायक के बिगड़े बोल,कहा.. ‘गोहत्या करने वालों के तुड़वा दूंगा हाथ-पैर’
दूसरे दिन स्टंप्स के समय रिद्धिमान साहा 10 और ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा 16 रन बनाकर क्रीज पर हैं। जडेजा ने अपनी पारी के दौरान अपने 1000 टेस्ट रन भी पूरे कर लिये हैं। मैच में तीसरे दिन सुबह का सत्र बेहद निर्णायक रहेगा। दोनों ही टीमें इस बात की पूरी कोशिश करेगी कि पहली पारी में बढ़त लेकर विपक्षी टीम पर मनोवैज्ञानिक दबाव बनाया जाये।
मैच के दोनों ही दिन अब तक शानदार खेल देखने को मिला है और विश्व रैंकिंग में नंबर एक तथा नंबर दो टीमों ने उतार-चढ़ाव से गुजरते हुये वापसी की है। पहले दिन जहां भारतीय चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने चार विकेट झटके तो दूसरे दिन आस्ट्रेलियाई आफ स्पिनर लियोन ने चार विकेट झटक लिये।
दिन की समाप्ति तक भारत की स्थिति खराब हो सकती थी लेकिन मैट रेनशॉ ने साहा को 88वें ओवर की आखिरी गेंद पर पहली स्लिप में जीवनदान दे दिया। उस समय साहा का स्कोर नौ रन और भारत का स्कोर 243 रन था। कमिंस की गेंद पर साहा को यह जीवनदान मिला। रेनशा ने इससे पहले सुबह के सत्र में भी लोकेश राहुल का कैच टपकाया था।
राहुल ने इस जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुये 124 गेंदों में नौ चौकों और एक छक्के की मदद से 60 रन की शानदार पारी खेली। राहुल का इस सीरीज में यह पांचवां अर्धशतक था। उनका दुर्भाग्य रहा कि पांचों बार 50 रन पार करने के बावजूद वह उसे शतक में नहीं बदल पाये।
भारत ने सुबह बिना कोई विकेट खोए शून्य से आगे खेलना शुरु किया। मुरली विजय जल्द ही पवेलियन लौट गये। हेजलवुड की गेंद पर विकेटकीपर मैथ्यू वेड ने विजय का कैच लपका। विजय ने 36 गेंदों में 11 रन बनाये और भारत का पहला विकेट 21 के स्कोर पर गिरा। राहुल और पुजारा ने इसके बाद दूसरे विकेट के लिये 87 रन की महत्वूपर्ण साझेदारी की।
दोनों बल्लेबाजों ने पहले सत्र में बेहद संभलकर खेलते हुये लंच तक भारत के स्कोर को 64 रन तक पहुंचाया। लंच के समय राहुल 31 और पुजारा 22 रन पर नाबाद थे।
गोरखपुर में सीएम योगी ने कहा, तुलसीदास जी ने अकबर को नहीं माना कभी अपना राजा..!
राहुल ने अपने 50 रन 98 गेंदों में पूरे किये। आत्मविश्वास के साथ खेल रहे राहुल के शॉटस को देखकर लग रहा था कि वह आज बड़ी पारी खेल जाएंगे। लेकिन उन्होंने कङ्क्षमस की उठती गेंद को हुक करने की कोशिश की और वार्नर को कवर में कैच थमा बैठे। भारत का दूसरा विकेट 108 के स्कोर पर गिरा। पुजारा और रहाणे चायकाल तक भारत के स्कोर को 153 रन तक ले गये। इस बीच पुजारा ने अपना 15वां अर्धशतक 123 गेंदों में पूरा कर लिया। चायकाल तक भारत की स्थिति बेहद मजबूत नजर आ रही थी लेकिन चायकाल के बाद लियोन ने भारत को एक के बाद एक झटके दिये। लियोन ने जम चुके पुजारा को शॉर्ट लेग पर पीटर हैंड्सकोंब के हाथों कैच करा दिया। पुजारा ने 151 गेंदों पर 57 रन में छह चौके लगाये।
नायर एक बार फिर विफल रहे और लियोन की गेंद पर विकेटकीपर वेड को कैच दे बैठे। नायर ने 16 गेंदों में पांच रन बनाए। भारत का चौथा विकेट 167 के स्कोर पर गिरा। रहाणे और अश्विन ने पांचवें विकेट के लिये 49 रन की साझेदारी की। भारत की स्थिति सुधरती नजर आ रही थी कि लियोन ने रहाणे का कीमती विकेट झटक लिया। रहाणे ने आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ का कैच स्लिप में लपका था तो इस बार स्मिथ ने रहाणे का कैच स्लिप में लपक लिया। रहाणे ने 104 गेंदों पर 46 रन में सात चौके और एक छक्का लगाया। रहाणे का विकेट 216 के स्कोर पर गिरा और इसके पांच रन बाद लियोन ने अश्विन को पगबाधा कर दिया। अश्विन ने 49 गेंदों पर 30 रन में चार चौके लगाये। साहा और जडेजा ने फिर शेष खेल सुरक्षित निकाल लिया। हालांकि आस्ट्रेलिया ने 87 ओवर के बाद दूसरी नई गेंद ली। जडेजा ने अपनी नाबाद 16 की पारी में दो छक्के लगा दिये हैं। लियोन ने 28 ओवर में 67 रन पर चार विकेट, हेजलवुड ने 18 ओवर में 40 रन पर एक विकेट और कमिंस ने 21 ओवर में 59 रन पर एक विकेट लिया।

Share it
Top