फिट रहा तो 2019 का विश्वकप भी खेलूंगा: धोनी

फिट रहा तो 2019 का विश्वकप भी खेलूंगा: धोनी

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा है कि अगर सबकुछ ठीक रहा और वह फिट रहते हैं तो 2019 के विश्वकप और उसके बाद भी खेल सकते हैं।
35 वर्षीय धोनी ने इस वर्ष के शुरु में सीमित ओवर क्रिकेट की कप्तानी छोड़ दी थी। उसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ हुए दूसरे वनडे में उन्होंने शतक बनाया और उन्होंने ट्वंटी-20 में अपना पहला अर्धशतक भी लगाया था। भारतीय टीम की कप्तानी छोडऩे के बाद धोनी को विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया और वह टीम को सेमीफाइनल तक लेकर गये। विकेटकीपर धोनी ने इंग्लैंड में जून में होने वाले चैंपियंस ट्राफी के बाद संन्यास की अकटलों पर विराम लगाते हुये संकेत दिया कि फिलहाल अभी संन्यास लेने का उनका कोई इरादा नहीं है। उन्होंने कहा, दुनिया में कुछ भी 100 प्रतिशत नहीं होता। दो साल काफी लंबा समय होता है, इस दौरान बहुत कुछ बदल सकता है। खासकर जिस तरह का भारतीय टीम का कार्यक्रम है यह काफी व्यस्त वाला है।
एण्टी रोमियो स्क्वॉयड: मुख्यमंत्री योगी ने कहा..सहमति से बैठे युवक-युवतियों पर न हो कार्रवाई
वर्ष 2013 में अपनी कप्तानी में भारत को चैंपियंस ट्राफी जीता चुके धोनी ने कहा, अगर आप दस साल तक क्रिकेट खेलते हो तो आप थोड़े विटेज कार जैसे हो जाते हो, आपको अपनी फिटनेस का ज्यादा ख्याल रखना पड़ता है। जिस तरह से सारी चीजें सही जा रही हैं निश्चित तौर पर मैं 2019 विश्वकप भी खेलूंगा। भारत के लिये अब तक 90 टेस्ट, 286 वनडे और 76 ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके धोनी ने कहा, दो साल में बहुत कुछ हो सकता है। हां, मैं आज जितना फिट हूं मैं आसानी से 2019 के बाद भी खेल सकता हूं।

Share it
Top