फरवरी में थोक मुद्रास्फीति 6.55 प्रतिशत बढी

फरवरी में थोक मुद्रास्फीति 6.55 प्रतिशत बढी

नई दिल्ली। देश में खाद्य पदार्थों और ईंधन की कीमतों में तेज इजाफा होने से इस वर्ष फरवरी में थोक मुद्रास्फीति की दर 6.55 प्रतिशत बढी है जबकि इससे पिछले वर्ष के इसी माह में यह आंकडा 0.85 प्रतिशत रहा था। सरकार के आज यहां जारी आँकड़ों के अनुसार जनवरी 2017 में थोक मुद्रास्फीति की दर 5.25 प्रतिशत दर्ज की गयी थी। चालू वित्त वर्ष में बिल्डअप मुद्रास्फीति 5.82 प्रतिशत रही है जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह आँकड़ा ऋणात्मक 1.14 प्रतिशत रहा था। आंकडों में कहा गया है कि खाद्य वस्तु समूह में 0.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। फरवरी में सब्जी पांच प्रतिशत, ज्वार एवं चिकन दो प्रतिशत, चावल, बाजरा, मछली, रागी, गाय और भैंस का मांस एक एक प्रतिशत बढा है। हालांकि इस समूह में चना 14 प्रतिशत, अरहर सात प्रतिशत, मसाले छह प्रतिशत, चाय एवं मसूर तीन प्रतिशत, अंडा, मूंग और मक्का दो प्रतिशत, गेंहू और काफी एक प्रतिशत की गिरावट आयी है। गैर खाद्य वस्तु समूह में 1.5 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। इस समूह में फूल 13 प्रतिशत, नारियल नौ प्रतिशत, कच्ची रबड आठ प्रतिशत, कच्चा सिल्क चार प्रतिशत, तिल दो प्रतिशत, और नारियल रेशा, चारा सूरजमुखी, बिनौला में एक – एक प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इसी वर्ग में सरसों, सोयाबीन तथा जूट दो प्रतिशत, सूरजमुखी, कच्ची ऊन,कच्ची खाल और अरंडी एक एक प्रतिशत की गिरावट आयी है।
आंकडों के अनुसार खनिज समूह में नौ प्रतिशत का इजाफा हुआ है। फरवरी में कच्चा मैंगनीज 24 प्रतिशत, कच्चा तेल 13 प्रतिशत, कच्चा तांबा 11 प्रतिशत, क्रोमोमाइट आठ प्रतिशत, लौह अयस्क तीन प्रतिशत और जिंक दो प्रतिशत बढा है। ईंधन एवं बिजली समूह में 1.3 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है। इस वर्ग में कोकिंग कोल 15 प्रतिशत, विमान ईंधन तीन प्रतिशत, बिटुमन दो प्रतिशत, केरोसीन, हाई स्पीड डीजल, रसोई गैस और लिग्नाइट में एक एक प्रतिशत की तेजी आयी है। हालांकि फरनेस तेल में एक प्रतिशत की गिरावट आयी है। शीतल पेय, तंबाकू एवं तंबाकू उत्पाद की कीमतों में 0.2 प्रतिशत की कमी आयी है। इस समूह में जर्दा सात प्रतिशत अज्ञैर बियर तीन प्रतिशत घटी है। कपडा समूह में 0.2 प्रतिशत बढत हुई है। हालांकि काष्ठ एवं काष्ठ उत्पाद समूह में 0.4 प्रतिशत कमी आयी है। चमडा एवं चमडा उत्पाद में 0.3 प्रतिशत की गिरावट आयी है। जूते के चमडा की कीमत एक प्रतिशत गिरी है। हालांकि चमडा एक प्रतिशत बढा है।

Share it
Top