पौष्टिक भोजन बनाता है जवान और सुंदर..सेहत और सुन्दरता का चोली दामन का साथ है

पौष्टिक भोजन बनाता है जवान और सुंदर..सेहत और सुन्दरता का चोली दामन का साथ है

bhojan-kaise-kare जवां और सुंदर दिखना सभी को भाता है चाहे मर्द हो या औरत। विशेषकर महिलाओं को तो यह बहुत अच्छा लगता है जब उन्हें अपनी उम्र से छोटी दिखने पर तारीफ मिलती है। यह सुनकर वे गौरवान्वित महसूस करती हैं और उनका चेहरा और अधिक सुंदर लगने लगता है। जवां और सुन्दर दिखने के लिए केवल खाली नैन नक्श सुन्दर होना ही काफी नहीं है। उस सुंदरता के साथ साथ शरीर का स्वस्थ होना भी जरूरी है। कैसे भी नैन नक्श हों, उन्हें मेकअप की सहायता से सही उभारा जा सकता है पर सेहत ठीक न हो तो त्वचा पर चमक को नहीं लाया जा सकता, इसलिए कहा गया है कि सेहत और सुन्दरता का चोली दामन का साथ है। भोजन में उचित विटामिन, प्रोटीन, खनिज व कैल्शियम की कमी त्वचा को कांतिहीन बना देती है। इसका प्रभाव शरीर के अंदरूनी स्वास्थ्य पर पहले पड़ता है। वहीं यदि हम उचित पौष्टिक आहार लेते हैं तो शरीर स्वस्थ और हमारी त्वचा मुलायम, चमकदार और कसावदार बनती है। फिर हम बिना मेकअप के भी दूसरों से भिन्न दिखाई देंगे और हमारा आकर्षण सबके बीच में दिखाई देगा। प्रात: उठकर एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद और एक नींबू का रस मिलाकर पिएं। इससे अनावश्यक मोटापा कम होगा, त्वचा निखरेगी और पाचन शक्ति भी बढ़ेगी।
कुछ आम बीमारियां शरीर में कब घर कर जाती हैं..पता ही नहीं चल पाता, जानें उनके लक्षण..

दिन में ताजे फल सीमित मात्र में खाएं। फल आसानी से पच जाते हैं और ऊर्जा का अच्छा साधन होते हैं। जो लोग फलों का सेवन किसी कारण से न कर पायें, उन्हें एक गिलास ताजे फलों का जूस अवश्य लेना चाहिए। मोटे लोग जूस का सेवन न करें। उन्हें फल खाने चाहिएं क्योंकि फलों से उनको रेशा भी प्राप्त होता है जो पेट साफ रखने में सहायक होता है। फल और जूस से त्वचा में निखार आता है और उचित विटामिन मिलने से शरीर स्वस्थ रहता है। फलों में पपीता, नारंगी, संतरा, केला, सेब आदि लें। अपनी त्वचा को खूबसूरत बनाए रखने के लिए और पाचन तंत्र को ठीक रखने के लिए न अधिक गर्म और न अधिक ठंडे भोज्य पदार्थ खाएं।  स्वस्थ त्वचा और शरीर के लिए पानी का खूब सेवन करें। दिन भर में 8 से 10 गिलास पानी लें ताकि विषैले तत्व शरीर से घुलकर पेशाब और पसीने के जरिए बाहर निकलते रहें। जवां बने रहने के लिए व्यायाम अति आवश्यक है। व्यायाम से शरीर लचीला बना रहता है। व्यायाम में आप तेज सैर, योगा, एरोबिक्स, जिम एक्सरसाइज तैराकी, साइकिलिंग कुछ भी कर सकते हैं। सब्जियों में हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालक, पुदीना, धनिया, सरसों, बीन्स, शलजम, घीये का सेवन नियमित करें। सलाद में खीरा, गाजर, मूली, टमाटर, प्याज खूब खाएं। इनमें कैलोरीज की मात्रा कम होती है। अंकुरित अनाज व दालें खाएं क्योंकि इसमें बी कांप्लेक्स की मात्रा साधारण अनाज से अधिक होती है।
जैली बनाइए और खिलाइए…नाशपाती की स्वादिष्ट जैली

जिनसे रहें दूर:-चाय, काफी, धूम्रपान व शराब का सेवन न करें। अधिक चाय, काफी का सेवन खून में बी कांपलेक्स के अवशोषण को बाधित करता है। इससे शरीर में खून की कमी हो जाती है और त्वचा कांतिहीन लगने लगती है। इसका प्रभाव बालों पर भी पड़ता है। बालों का गिरना, रूसी होना व दो मुंह बाल इस के कारण बनते हैं। अधिक कैफीन दिल की धड़कन को बढ़ाती है। डाइटिंग बिलकुल न करें। डाइटिंग का सीधा प्रभाव त्वचा और अन्दरूनी सेहत पर पड़ता है। इससे त्वचा कांतिहीन लगती है। बस ध्यान दें कि तले हुए, जंक फूड को अलविदा कर दें। मैदा, कुकीज, केक व पेस्ट्री को भी अलविदा करें। दिन में हर ढा़ई से 3 घंटे बाद फल या सलाद की सर्विंग लें। डाइटिंग से तनाव बढ़ता है और इसका सीधा प्रभाव पाचन क्रि या पर पड़ता है। अधिक देर तक भूखा रहने से मोटापा बढ़ता है। रात्रि में देर तक न जागें। इसका प्रभाव भी सेहत और सुंदरता पर सीधा पड़ता है। तनाव से दूर रहें। तनाव से कैल्शियम का संतुलन शरीर में गड़बड़ा जाता है। तनाव से मधुमेह, उच्च रक्तचाप व हृदय रोग हो जाते हैं जिनका प्रभाव हमारी त्वचा पर भी पड़ता है। त्वचा का कसाव कम होता है और झुर्रियां पडऩे से हम उम्र से अधिक लगते हैं।
– नीतू गुप्ताआप ये ख़बरें अपने मोबाइल पर पढना चाहते है तो दैनिक रॉयलunnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइटwww.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे.

Share it
Top