पूर्वोत्तर की महिला के साथ भेदभाव मामले में गोल्फ क्लब को नोटिस

पूर्वोत्तर की महिला के साथ भेदभाव मामले में गोल्फ क्लब को नोटिस

दिल्ली। पूर्वोत्तर क्षेत्र की एक महिला के साथ हुए कथित भेदभाव के मामले में राष्ट्रीय अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग ने दिल्ली के प्रतिष्ठत गोल्फ क्लब को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। आयोग ने क्लब से घटना का विस्तृत ब्योरा और इस मामले में शिकायत पर की गई कार्रवाई की जानकारी सप्ताह भर के भीतर उसे देने को कहा है। आयोग की ओर से यह नोटिस मेघालय राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष और वहां के नागरिक समाज द्वारा की गई शिकायत पर जारी किया गया है। नोटिस में कहा गया है कि यदि तय अवधि के भीतर क्लब की ओर से जवाब नहीं मिला तो आयोग संविधान के अनुच्छेद 338ए के तहत प्रदत्त अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए समूचे घटनाक्रम की जांच खुद शुरू कर देगा और व्यक्तिगत रूप से उसके समक्ष पेश होने के लिए क्लब के पदाधिकारियों को समन भी जारी कर देगा।


http://www.royalbulletin.com/मुजफ्फरनगर-किसान-ऋण-माफी/

यह मामला गत महीने का है जब असम सरकार में स्वास्थ्य सलाहकार डॉक्टर निवेदिता के बेटे की देखभाल करने वाली पूर्वोत्तर की एक महिला टेलिन लिंगदोह डाक्टर निवेदिता के साथ एक भोज निमंत्रण पर क्लब पहुंची थी। क्लब के प्रबंधक और कुछ सदस्यों ने लिंगदोह की पोशाक को लेकर एतराज किया और उन्हें क्लब से बाहर जाने को कहा गया।

Share it
Top