पीठ के मुंहासे: नो प्राब्लम

पीठ के मुंहासे: नो प्राब्लम

मुंहासों की समस्या से काफी लोग परेशान रहते हैं। मुंहासे केवल चेहरे तक सीमित नहीं होते बल्कि गले तथा पीठ पर भी आ जाते हैं। अगंर आप भी चाहते हैं कि आपकी पीठ बेदाग रहे तो कुछ घरेलू उपचार जिन्हें अपनाकर मुंहासों से छुटकारा पाकर अपनी पीठ को एकदम साफ रख सकती हैं।
दूध:- पीठ को साफ करने के लिए रूई के फाहे से कच्चे दूध में नींबू का रस मिलाकर गोल गोल घुमाते हुए लगाएं। कुछ देर बाद पीठ को ठंडे पानी से धो लें।
तुलसी व गुलाब की पत्तियां:- तुलसी और गुलाब की पत्तियों का पेस्ट बनाकर 2 बूंद नींबू का रस और चंदन पाउडर को मिलाकर 20 मिनट के लिए यह पेस्ट पीठ पर लगाएं। फिर ठंडे पानी से धो लें।
संतरा:- संतरे के रस में नींबू का रस और शहद मिला लें। इसे मुंहासे के दाग वाले हिस्से पर लगाएं। दाग धब्बे दूर होंगे, साथ ही रंग भी साफ होगा।
खीरा:- खीरे का रस व गुलाबजल मिक्स करके लगाएं। एक घंटे बाद पीठ धो लें और आयल फ्री माश्चराइजर लगाएं।
मसूर दाल:- मसूर दाल को रात भर भिगो लें, फिर मिक्सी में पीसकर पेस्ट तैयार कर लें। दही मिलाकर लगाएं और सूखने पर धो लें।
नींबू:- अगर मुंहासे खत्म हो गए हैं और सिर्फ दाग ही रह गए हैं तो नींबू, ग्लिसरीन व गुलाबजल का लोशन बनाकर लगाएं।
संतरे के छिलके:- संतरे के छिलकों का पाउडर बना लें और उसमें आटा, दही व हल्दी पाउडर मिलाकर लगाएं। कुछ देर बाद बिना रगड़े हल्के हाथ से धो लें।
पपीता:- पपीते और खट्टे सेब का रस कद्दूकस कर पीठ पर लगाएं। लाभ होगा।
एलोवेरा:- नहाने के बाद एलोवेेरा का पल्प अपनी पीठ पर लगाएं। इससे पीठ पर पड़े चकत्ते, दाग धब्बे और सूजन दूर हो जाएगी।
मुल्तानी मिट्टी पैक:- एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी, गुलाब जल और एक चम्मच चंदन पाउडर मिला लें। इस पैक को अपनी पीठ पर लगाएं और सूखने के बाद ठंडे पानी से धो लें।
पुदीना:- पुदीने के रस को गुलाबजल में बराबर मात्र में मिलाकर लगाएं। इससे मुंहासे के दाग गायब हो जाते हैं और नए मुंहासे बनने पर भी कंट्रोल होता है।
गुलाब:- गुलाब की ताजी पंखुडिय़ों का पेस्ट चंदन के पाउडर में मिलाकर लगाएं। इससे मिश्रण से दाग धब्बे दूर होंगे।
टमाटर:- टमाटर, नींबू का रस और 2 बूंद शहद मिलाएं। इस मिश्रण को लगाने से रंग साफ होगा और मुंहासे दूर होंगे।
नीम की पत्तियां:- नीम की पत्तियों में पुदीने व तुलसी की पत्तियों को मिलाकर पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को मुल्तानी मिट्टी में मिलाकर लगाएं।
इनका भी रखें ध्यान:-
– डीप नेक ब्लाउज या डेऊस पहन रहे हैं तो ध्यान रहे कि पीठ नर्म और स्मूद दिखे। इसके लिए फाउंडेशन की जगह आप कैलामाइन लोशन लगा सकती हैं।
– कॉटन की डेऊस ही पहनें। सिंथेटिक कपड़े पसीना नहीं सोखते जिससे बैक्टीरिया पनपने की समस्या हो सकती है।
– अगर पीठ पर मवाद भरे मुंहासे हैं तो उन पर स्क्र ब न करें। मुंहासों से खून निकलेगा और वे घाव का रूप ले लेंगे और संक्र मण फैलने का खतरा हो सकता है।
– मुंहासे को एंटीसेप्टिक लोशन से साफ करने के बाद जरूरी है कि उन पर बर्फ लगाएं। ऐसा 2-3 दिन करने से मुंहासे दब जाएंगे।
– मुंहासों को सुखाने के लिए आप एंटीसेप्टिक साबुन या बॉडीवाश का प्रयोग करें। अगर इन सब घरेलू नुस्खों के बाद भी आपके मुंहासे कम नहीं हो रहे और परेशानी अभी भी हो रही है तो आप डाक्टर से राय लें। लेजर ट्रीटमेंट भी करवा सकती हैं। आप चाहें तो किसी त्वचा रोग विशेषज्ञ से इलाज भी करवा सकती हैं।
– शिवांगी झाँब

Share it
Share it
Share it
Top