पढ़े जा सकते हैं वाट्सएप के मैसेज, सवाल उठने पर कंपनी ने जारी किया श्वेतपत्र

पढ़े जा सकते हैं वाट्सएप के मैसेज, सवाल उठने पर कंपनी ने जारी किया श्वेतपत्र

न्यूयार्क/ नई दिल्ली । वाट्सएप ने इन खबरों का खंडन किया है कि उसके प्लेटफार्म पर भेजे जाने वाले एनक्रिप्टेड संदेश को बीच में रोककर पढ़ा जा सकता है या बाधित किया जा सकता है। दुनिया की सबसे बड़ी मेसेजिंग कंपनी का कहना है कि पिछले साल अप्रैल से ही वाट्सएप कॉल और संदेश शुरू से अंत तक डिफॉल्ट रूप से एनक्रिप्टेड हैं। ‘द गार्जियन’ की रिपोर्ट के मुताबिक एक रिसर्च में सामने आया है कि वाट्सएप का प्रयोग करने वालों के सारे मैसेज और अन्य डाटा को फेसबुक के कर्मचारी पढ़ सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि जिस तरह की इन्क्रिप्शन पॉलिसी फेसबुक ने वाट्सएप के लिए तैयार की है, उसमे सुरक्षा संबंधी चूक है। इससे यूजर्स की प्राइवेसी और सिक्योरिटी को लेकर सवाल उठने लगे हैं। वाट्सएप के सहसंस्थापक ब्रायन एक्टन ने रेडिट पर साझा किए गए संदेश में कहा, ”द गार्जियन की वाट्सएप में सुरक्षा खामी की रिपोर्ट गलत है। वाट्सएप सरकार को भी अपनी प्रणाली में हस्तक्षेप या घुसपैठ की अनुमति नहीं देती। इस संबंध में वाट्सएप सरकार द्वारा किसी भी अनुरोध को नहीं मानेगी और उसके खिलाफ लड़ेगी।”
सपा-कांग्रेस गठबंधन दांव पर होगी राहुल और गायत्री में से एक की प्रतिष्ठा..!
वाट्सएप ने इस संबंध में एक तकनीकी श्वेतपत्र जारी किया है। फेसबुक के वाट्सएप को खरीदने के बाद से ही ऐसी अटकलें लग रही थी। कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के सिक्युरिटी रिसर्चर टोबिस बॉएल्टर के अनुसार फेसबुक ने वाट्सएप के सिगनल प्रोटोकॉल में बदलाव किया है। इस बदलाव की वजह से फेसबुक का कोई भी कर्मचारी वाट्सएप पर सभी मैसेज को आसानी से पढ़ सकता है। अगर कोई सरकार इस तरह की जानकारी मांगती है, तो फेसबुक उसको आसानी से दे सकता है।

Share it
Top