नये शिखर को छूकर सपाट रहे शेयर बाजार

नये शिखर को छूकर सपाट रहे शेयर बाजार

मुंबई। पूँजी बाजार नियामक सेबी द्वारा पूँजी निवेश के नियमों को लचीला बनाये जाने के कारण हुयी जोरदार लिवाली के बल पर नये शिखर को छूने के बाद शुरू हुयी बिकवाली के दबाव में घरेलू शेयर बाजार आज बढ़त खाेते हुये लगभग सपाट बंद हुये।
बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स जहाँ 7.10 अंक की मामूली बढ़त हासिल कर 31,290.74 अंक पर रहा, वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 3.60 अंक की गिरावट लेकर 9,630 अंक पर बंद हुआ।
मझौली और छोटी कंपनियों पर भी बिकवाली का दबाव देखा गया जिससे बीएसई का मिडकैप 0.59 प्रतिशत लुढ़ककर 14,763.07 अंक पर और स्मॉलकैप 0.55 प्रतिशत उतरकर 15,609.49अंक पर रहा। बीएसई का सेंसेक्स 68 अंक की बढ़त लेकर 31,351.53 अंक पर खुला और लिवाली के बल पर यह अब तक के रिकॉर्ड स्तर 31,522.80 अंक पर पहुँच गया।
हालाँकि, भोजनावकाश के बाजार पर बिकवाली का दबाव शुरू हुआ और यह आखिर तक बना रहा जिससे सेेंसेक्स तेजी खोते हुये 31,253.63 अंक के निचले स्तर तक फिसल गया।
आखिर में यह पिछले दिवस के 31,283.64 अंक की तुलना में 0.02 प्रतिशत अर्थात 7.10 अंक की मामूली बढ़त हासिल कर 31,290.74 अंक पर रहा। एनएसई का निफ्टी नौ अंक की बढ़त लेकर 9,642.65 अंक पर खुला और लिवाली के जोर से यह 9,678.85 अंक के उच्चतम स्तर तक चढ़ा।मुनाफावसूली के कारण यह 9,617.75 अंक के सत्र के निचले स्तर तक लुढ़का।
अंत में यह पिछले सत्र के 9,633.30 अंक की तुलना में 0.04 प्रतिशत अर्थात 3.60 अंक गिरकर 9,630 अंक पर रहा।
बीएसई में कुल 2,818 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें से 1,115 बढ़त में और 1,545 गिरावट में रहे जबकि 158 में कोई बदलाव नहीं हुआ।

Share it
Top