धनतेरस पर आपके व्यापार और घर में होगी धन वर्षा…जानिये कैसे…?

धनतेरस पर आपके व्यापार और घर में होगी धन वर्षा…जानिये कैसे…?

2406_dhanteras-wallpaper-07कार्तिक कृष्णत्रयोदशी को यमराज का पूजन किया जाता है। रात्रि में घर की लक्ष्मी को आटे का दीपक बनाकर घर के मुख्य द्वार पर रखना चाहिए ।दीपक में चार बत्तियां लगाकर सरसों का तेल डालकर दीपक को जलाना चाहिए। दीपक को रोली और अक्षत का तिलक लगाकर,उस पर जल का छींटा देकर  गुड, फूल, नैवेध अर्पित करके यम का पूजन करना चाहिए।इस दिन धनवन्तरी जी के पूजन का भी विशेष महत्व  है। चिकित्सा क्षेत्र से जुडे व्यक्तियों को धनवन्तरी जी की पूजा अवश्य करनी चाहिये। धनतेरस के दिन नये बर्तनों व चांदी आदि का सामान खरीदना भी शुभ माना जाता है।मान्यता है कि धनतेरस के दिन पूजन एवं 11,21,27,54, 108 व 364 बत्ती का दीपदान करने से अकाल मृत्यु से छुटकारा मिलता है, जिसके घर में यह पूजन होता है, वहां अकाल मृत्यु का भय नहीं रहता है। इसलिये धनवन्तरी पूजन व दीपदान करना शुभ माना जाता है।अकाल मृत्यु से बचने के लिये इस दिन सायं यमराज के लिए एक आटे का चौमुखा दीपक बनाकर ‘‘मृत्युनां पाशहस्तेन कालेन भर्याया सह। त्रयोदश्यां दीपदानां सूर्यजः प्रीचतामिव’’ मंत्र बोलते हुए घर से बाहर दीपदान करना चाहिए। मंत्र ग्यारह बार पढें।आज सायं काल 6.33 से रात्रि 8.28 के मध्य घर के मुख्य द्वार पर दीपक जलाने के बाद, घर के पूजा घर में दीपक जलाकर मां अन्नपूर्णा व सिद्ध लक्ष्मी जी की पूजा करनी चाहिए |1- महालक्ष्मी जी  को स्वर्णमयी कहा गया है। अतः इस दिन स्वर्ण, रजत, रत्न अपने पूजा घर में रखकर महालक्ष्मी जी के  मंत्र- ऊं श्रीं ह्रीं ऐं महालक्षम्यै कमल धारिण्ये सिंह वाहिन्यै स्वाहा।। से शुभ मुहूर्त में महालक्ष्मी जी की पूजा करनी चाहिये। 
धन तेरस पर विशेष-आज करे कुबेर जी की साधना…भर जायेगी घर की तिजौरी…!
2-श्रीमद भागवत कथा में लिखा है कि धनतेरस के दिन ब्रह्माजी ने कुबेर जी  की तपस्या से प्रसन्न होकर उन्हें धनपति  बनने का आशीर्वाद दिया था। अतः इस दिन उत्तर की तरफ मुंह करके कुबेर जी का ध्यान करना चाहिए। इसी दिन से कुबेर जी लोकपाल व धनाध्यक्ष है।3- चांदी का छल्ला बनवाकर धनतेरस की रात्रि में अनामिका अंगुली में लक्ष्मी स्त्रोत पढ़कर धारण करने से धन का आगमन सुगम होता है |
4- अगर किसी जातक की राहू की महादशा चल रही हो, तो उसे आज के दिन सफेद चन्दन की माला, दक्षिण की तरफ मुंह करके गले में धारण करनी चाहिए जिससे उसके जीवन में धन आगमन की रुकावटें दूर हो जाएगी |
धनतेरस पर शुभ है बर्तनों की खरीदारी,,पर ये टालता है अकाल मृत्यु का योग भी….!
5-धनतेरस के दिन बर्तन खरीद कर खाली नहीं रखना चाहिए,उनमें बूंदी के लड्डू अवश्य रखने चाहिए,जिससे घर के भंडार सदा भरे रहेंगे |6- घर के मुख्य द्वार पर हल्दी से स्वास्तिक का चिन्ह बनाना चाहिए इससे घर में नकारात्मक उर्जा का प्रवेश रुक जाता है और घर में सकारात्मक उर्जा बनी रहती है |
7 -तुलसी जी  के गमले में  देशी घी का दीपक जलायें,इससे लक्ष्मी जी जल्द प्रसन्न हो जाती है और घर की संतानों पर माँ की कृपा सदा बनी रहती है |
8- काले तिल, कमल गट्टे, जौं, इन्द्रजौं, लाल चंदन, देशी घी,बूरा,हवन सामग्री में मिलाकर बेल की समीधा से श्री सूक्त का हवन करना चाहिए,इससे भी महालक्ष्मी जी जल्द प्रसन्न होती है |
sanjay-saxena
9 -शुभमुहूर्त में दीपदान करते समय खडी बत्ती होनी चाहिए… फिर चौराहे, मंदिर की दहलीज, वृक्ष, नल या कुएं पर दीपक रख देना चाहिए,दीपक रखते समय परमपिता परमात्मा से  यह प्रार्थना करनी चाहिए कि जैसे दीपक की लौ ऊपर की ओर आकाश की तरफ जा रही है,हे प्रभु  मेरी तरक्कियां भी इसी प्रकार ऊंची हो।
10 -जिन व्यक्तियों के कार्य में बंधन, विघ्न आते हो एवं स्वास्थ्य कमजोर हो, उन्हें ‘‘रामरक्षा स्त्रोत’’ का पाठ करना चाहिए। पाठ पढ़ने से समस्त बाधाएं दूर होती है।
11 – कुबेर मंत्र…. .ऊं श्री वित्तेशवराय  नमः या ऊं श्रीं ह्रीं श्रीं ह्रीं  क्लीं श्रीं क्लीं वित्तेशवराय नमः।।….  की कम से कम तीन माला या संभव हो तो  11 माला अवश्य करें.. आपका अवश्य ही धनप्राप्ति का रास्ता खुलेगा।12- महामृत्यंजय यंत्र के सामने घी का दीपक जलाकर महामृत्यंजय मंत्र का कम से कर 21 बार और संभव हो तो 108 बार  या जितना ज्यादा कर सकते हो ,जाप करना चाहिए,ये मन्त्र इतना प्रभावी है कि इससे बड़े से बड़े रोग दूर हो जाते है और अकाल मृत्यु टल  जाती है |धनतेरस के दिन झाडू अवश्य खरीदे व छोटी दीपावली को पूरे घर में लगाये, दहलीज व छत अवश्य साफ करें।आप और आपके परिवार के लिए धनतेरस मंगलकारी हो,ये शुभकामना है |मोबाईल-98937400222 आप ये ख़बरें और ज्यादा पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल unnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे..कृपया एप और साईट के बारे में info @royalbulletin.com पर अपने बहुमूल्य सुझाव भी दें…

Share it
Share it
Share it
Top