दिल की बीमारियों और मधुमेह के लिए डॉ. मोरपेन की नयी थेरेपी

दिल की बीमारियों और मधुमेह के लिए डॉ. मोरपेन की नयी थेरेपी

 हेल्थकेयर उत्पाद बनाने वाली प्रमुख कंपनी डॉ. मोरपेन दिल की बीमारियों और मधुमेह जैसी बीमारियों का अस्पताल के माहौल से बाहर उपचार के लिए एक विशेष थेरेपी लेकर आयी है और इसके लिए वह देश में डॉ. मोरपेन नाउ नाम से 100 हेल्थकेयर सेंटर शुरू करने जा रही है।
कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वरूण सूरी ने यहां जारी बयान में कहा कि दिल की बीमारियों और मधुमेह में अक्सर लोगों को अस्पताल का रुख करना पड़ता है, लेकिन अब इससे राहत मिल सकती है। कंपनी डॉ. मोरेपेन नाउ नाम के हेल्थकेयर सेंटर स्थापित कर रही है। ऐसा पहला सेंटर राजधानी में शुरू किया जा रहा है और अगले तीन वर्ष में देश के 25 प्रमुख शहरों में 100 सेंटर शुरू करने की योजना बनायी गयी है।
एण्टी रोमियो स्क्वॉयड: मुख्यमंत्री योगी ने कहा..सहमति से बैठे युवक-युवतियों पर न हो कार्रवाई
उन्होंने बताया कि यह विशेष थेरेपी एक्सटर्नल कांउटर पल्सेशन (ईसीपी) है। सिंगापुर की यह थेरेपी नेचुरल बायपास के रूप में भी जानी जाती है। सिंगापुर की कंपनी रीन्यू ग्रुप के साथ साझेदारी से इस थेरेपी को भारत में लाया गया है जो दिल और अन्य बीमारियों के प्रबंधन में एक क्रांति की शुरुआत है। सेंटर में इस्तेमाल होने वाली तकनीकों और चिकित्सा का प्रयोग करना ग्राहकों के लिए सरल और उनके अनुकूल होगा। उन्होंने कहा कि डॉ. मोरपेन की प्राथमिकता सभी महानगरों और अन्य प्रमुख शहरों में ये सेंटर स्थापित करने की है। इनमें मुंबई, पुणे, औरंगाबाद, हैदराबाद, अमरावती, बेंगलुरु, अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, अमरावती, चंडीगढ़, कानपुर, लखनऊ, जयपुर, जम्मू, अमृतसर, लुधियाना, भोपाल, इंदौर, रायपुर, भुवनेश्वर, पटना, गुवहाटी, देहरादून और रांची जैसे कई बड़े शहर शामिल हैं।

Share it
Share it
Share it
Top