त्योहारी मौसम में 40 फीसदी बढ़ेगी उपभोक्ता माँग : एसोचैम

त्योहारी मौसम में 40 फीसदी बढ़ेगी उपभोक्ता माँग : एसोचैम

asochamनई दिल्ली। अर्थव्यवस्था में सुधार, बेहतर रोजगार की संभावनाएँ बढऩे और कम ब्याज दर के कारण इस वर्ष त्योहारी मौसम में उपभोक्ता माँग पिछले वर्ष की तुलना में 40 प्रतिशत अधिक रहेगी।
उद्योग एवं वाणिज्य संगठन एसोचैम के हालिया सर्वेक्षण में यह बात सामने आई है। सर्वेक्षण के अनुसार, अच्छे मानसून के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में धारणा सुधरने से माँग बढऩे की संभावना है। देश के अधिकांश ग्रामीण और अद्र्धशहरी क्षेत्रों में दुपहिया वाहनों, आभूषणों और टिकाऊ उपभोक्ता उत्पादों की बेहतर माँग में यह बात परिलक्षित है। हालाँकि, रियल इस्टेट और हाउसिंग में माँग कमजोर है। यात्री कारों, दुपहिया वाहनों, मोबाइल, फैशनेबल परिधानों और टिकाऊ उपभोक्ता उत्पादों समेत ऑटोमोबाइल क्षेत्र में माँग में तेजी देखी जा सकती है। अभी तक सर्वाधिक तेजी पूर्वी एवं पश्चिमी भारत में देखी गयी है। उत्तर भारत में दीपावीली के दौरान माँग तेज होने की उम्मीद है। उद्योग संगठन ने कहा कि पूर्वी भारत में कोलकाता एवं अन्य मुख्य शहरों में दुर्गापूजा के दौरान खरीददारी में तेजी आयी।
पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन
   इस दौरान पश्चिमी भारत के महाराष्ट्र तथा गुजरात के शहरों में भी खरीददारी चढ़ी। दिल्ली एवं अन्य उत्तर भारतीय शहरों में दीपावली के मद्देनजर अगले कुछ दिनों में टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद समेत आभूषणों की माँग बढऩे की उम्मीद है। सर्वेक्षण के अनुसार, अगले तीन महीने में ग्रॉसरीज में खर्च में करीब 20 प्रतिशत वृद्धि होगी। इस दौरान परिधानों पर खर्च करीब 52 फीसदी तथा फैशनेबल एक्सेसरीज पर 32 फीसदी बढ़ेगा। परिधानों पर पुरुषों की अपेक्षा महिलाएँ अधिक खर्च करेंगी। वहीं, पुरुष एक्सेसरीज पर अधिक खर्च करेंगे। त्योहारी मौसम के दौरान मोबाइलों पर औसत खर्च 15 हजार से 35,500 रुपये रहने की उम्मीद है। पिछले छह महीने में यह 10-15 हजार रुपये रहा है। त्योहारी सीजन में घरेलू उपयोग की वस्तुओं तथा इलेक्ट्रॉनिक्स पर औसतन 15 से 25 हजार रुपये खर्च की उम्मीद है। उसने कहा कि मेट्रो शहरों में उपभोक्ता ई-कॉमर्स कंपनियों द्वारा दिये जा रहे ऑफरों के कारण अधिक ऑनलाइन शॉपिंग करेंगे। यह सर्वेक्षण राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरु, चेन्नई, अहमदाबाद, चंडीगढ़, लखनऊ और इंदौर में किया गया है।आप ये ख़बरें और ज्यादा पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल unnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे..कृपया एप और साईट के बारे में info @royalbulletin.com पर अपने बहुमूल्य सुझाव भी दें…

Share it
Top