तो रूसी पैदा करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है तनाव…!

तो रूसी पैदा करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है तनाव…!

 रूसी अक्सर सभी को सताती है। जब भी किसी को रूसी हो जाती है, वे तरह-तरह के उपाय ढूंढते हैं और नये अनोखे शैम्पू व तेल इस्तेमाल करते हैं। आजकल तो बाजार में रोज ही रूसी के मारे लोगों के लिए शैम्पू व तेल बिकने लगे हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि रूसी का होना या बढऩा आपकी मानसिक स्थिति पर निर्भर करता है। चौंकिये मत, इस पर काफी खोज करने के बाद यह पता चला है कि यह सच है।
रूसी को लेकर हमें बहुत गलतफहमियां हैं। जब भी किसी को रूसी हो तो वे सोचते हैं कि उनके सिर की त्वचा में रूखापन आ गया है, इसलिए रूसी हो गयी है। यह गलत है । रूसी सूखी त्वचा नहीं बल्कि तैलीय त्वचा से होती है।
रूसी से लोग बहुत परेशान होते हैं। आप कहीं भी जा रहे हों और आपने रंगदार कपड़े पहने हों और यदि आपको रूसी हो तो वह साफ नजर आती है और आपके कंधों पर, पीछे, पीठ के हिस्से में सफेद सफेद रूसी के गिरने से आप बहुत शर्मिंदा हो जाते हैं लेकिन आप एक बात का ध्यान रखें कि रूसी की चिंता ही रूसी को बढ़ायेगी। यह सही है कि चिंता होने से रूसी बढ़ती है। कई लोगों को जब कोई चिंता होती है या घर में अनबन होती है या फिर काम की वजह से या किसी और वजह से मानसिक तनाव होता है तो रूसी भरपूर फैलती है और जैसे तनाव खत्म होता है, रूसी भी कम हो जाती है।
‘पिकनिक नहीं जाऊंगा पापा’

आपकी खुराक का भी असर होता है रूसी के फैलने में। अधिक सफेद खाद्य पदार्थ जैसे दूध, पनीर, चीज व चॉकलेट से रूसी फैलती है। यह एक से दूसरे को नहीं फैलती क्योंकि यह छूत की बीमारी नहीं है। यह आपके शरीर में ही होने वाली तकलीफों के कारण बढ़ती या घटती है। यदि आप चिंतित हैं तो आपके सिर में तेल का स्राव बढ़ जाता है और इनसे यह रूसी बढऩी शुरू हो जाती है और सिर की त्वचा मानो झडऩे लगती है। जब आपकी चिंता कम हो जाती है तो यह भी कम हो जाती है और सिर की त्वचा ठीक हो जाती है।
ग्राफिक डिजाइनिंग में करियर

आजकल इसे नियंत्रण में लाया जा सकता है। यदि आपको अधिक रूसी है तो आप जरूर इसे रोकने वाली दवाई या शैम्पू लगायें लेकिन इसे रोकने के लिए कुछ दिन आप अपनी खुराक में भी बदलाव लाएं। घी, दूध, चीज, मक्खन व चॉकलेट कम करें। इसके अलावा, हरी सब्जियां व फल लें। फिर चिंता न करें क्योंकि यह एक चक्रव्यूह की तरह हो जाएगा क्योंकि आप चिंता करेंगे तो रूसी बढ़ेगी।
-अम्बिका

Share it
Top