ट्रेकोमा संक्रमण से 19 लाख दृष्टिहीनता के शिकार

ट्रेकोमा संक्रमण से 19 लाख दृष्टिहीनता के शिकार

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट के अनुसार ट्रेकोमा संक्रमण से दुनिया के करीब 19 लाख लोग दृष्टिहीनता के शिकार हो चुके हैं। विश्व में दृष्टिहीनता के जो भी मामले आते हैं उनमें से 1.4 प्रतिशत मामले ट्रेकोमा संकमण की वजह से होते हैं।
ट्रेकोमा क्लैमाइडिया ट्रैकोमैटिस बैक्टिरिया के कारण होने वाला आंखों एक अत्यंत संक्रामक रोग है। यह ऊपरी पलक और कॉर्निया को प्रभावित करता है।
18 लाख साल पहले भी कैंसर पीड़ित थे इंसान
यह संक्रामक रोग है , जो आंख, नाक से निकलने वाली गंदगी से फैलता है। यह संक्रमित लोगों की आंखों तथा नाक के संपर्क में आने वाली मक्खियों के माध्यम से भी फैलता है। यह संक्रमण सबसे अधिक बच्चों में होता है। रिपोर्ट के अनुसार अफ्रीका, मध्य तथा दक्षिण अमेरिका, एशिया, ऑस्ट्रिया तथा मध्य एशिया के 42 देशों के ग्रामीण इलाकों के गरीब लोगों में यह संक्रमण सबसे अधिक पाया जाता है।
इनमें से अफ्रीका सबसे अधिक प्रभावित है तथा इसके उपचार के लिए गहन प्रयास किये जा रहे हैं। संयक्त राष्ट्र ने वर्ष 2015 अफ्रीका के 29 देशों में ट्रेकोमा को एक स्वास्थ्य समस्या घोषित किया था जहां एक लाख 76 हजार लोगों के आंखों का आॅपरेशन किया गया तथा पांच करोड़ 40 लाख से अधिक लोगों का उपचार किया गया।

Share it
Top