टीम के प्रदर्शन से शर्मिंदा हूं: स्मिथ

टीम के प्रदर्शन से शर्मिंदा हूं: स्मिथ

styonहोबार्ट। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टेस्ट हारने के बाद सीरीज में 0-2 से पिछड़ चुके आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ ने इसके लिए खिलाडियो को जिम्मेदार बताते हुए कहा है कि वह टीम के प्रदर्शन से शर्मिंदा हैं।
तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच में 177 रन से मिली हारने के बाद मेजबान टीम ने दूसरे टेस्ट में भी दक्षिण अफ्रीकी टीम के आगे घुटने टेक दिये और टीम को पारी और 80 रन से हार का सामना करना पड़ा। आस्ट्रेलियाई टीम की यह लगातार पांचवीं हार है। स्मिथ ने मैच समाप्ति के बाद मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, सच कहूं तो टीम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही है और उनके इस प्रदर्शन से मैं शर्मिंदा हूं। निश्चित रूप से लगातार पांच मैच हारने के बाद मुझे भी लगता है कि टीम चयन को लेकर काफी चर्चा करने की जरुरत है। हमारे क्रिकेट में ऐसा कुछ नहीं हैं जिसपर हमें गर्व हो। कुछ चीजों में बदलाव करना होगा। विश्व में किसी भी टीम को हराने के लिए हमें इससे अच्छा क्रिकेट खेलना होगा। मेजबान टीम एक समय दो विकेट पर 121 रन बनाकर मुकाबले में बनी हुई थी लेकिन टीम ने 40 रन के अंतर पर अपने आठ विकेट गंवा दिए और पूरी टीम तेज गेंदबाज काइल एबोट के आगे 161 के स्कोर पर ढेर हो गई। कप्तान ने कहा,कि मुझे बड़े दुख के साथ यह कहना पड़ रहा है कि टीम को लगातार पांच मैचों में शिकस्त खानी पड़ी और टीम के लिए यह बड़ी अपमानजनक बात है। ईमानदारी से कहूं तो इस समय यहां बैठकर मैं बहुत ही शर्मिंदगी महसूस कर रहा हूं।
बार-बार नोट बदलने वालों पर सरकार का शिकंजा, नाखून पर लगेगी मतदान की तरह अंगुली पर स्याही
मेजबान टीम के लिए हार का एक कारण यह भी रहा कि टीम ने जिन खिलाडियो के स्थान पर दूसरे खिलाडियो को शामिल किया था वे अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके और टीम के कोच डैरेन लेहमैन ने अगले मैच के लिए टीम में बड़े बदलाव के संकेत दिये हैं। स्मिथ ने कहा, कि हमें फिर से घरेलू क्रिकेट की ओर लौटना होगा और वहां अलग अलग स्तर पर खिलाडियो को मौका देना होगा। बल्लेबाजों के अलावा गेंदबाजों ने भी गैर जिम्मेदाराना गेंदबाजी की और मेहबान टीम के बल्लेबाजों को खुलकर खेलना का मौका दिया। अगर गेंदबाज अनुशासन में गेंदबाजी करते तो मैच का परिणाम कुछ और होता।आप ये ख़बरें अपने मोबाइल पर पढना चाहते है तो दैनिक रॉयलunnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे.]. 

Share it
Top