जितनी ज्यादा गुटबाजी,पार्टी उतनी सक्रिय,जिसमे गुटबाजी नहीं,मतलब वो पार्टी सो रही है…!

जितनी ज्यादा गुटबाजी,पार्टी उतनी सक्रिय,जिसमे गुटबाजी नहीं,मतलब वो पार्टी सो रही है…!

80322-sachin-pilotराजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने पार्टी में गुटबाजी को बढ़िया मानते है,सचिन का मानना है कि गुटबाजी पार्टी के लिए कोई बुरी चीज नहीं है और जितनी ज्यादा गुटबाजी होगी, पार्टी उतनी ही सक्रिय होगी।
पायलट ने  हनुमानगढ़ जिले में मिर्जेवाला मेर गांव में पूर्व सांसद दिवंगत बीरबलराम मेघवाल के निवास पर पत्रकारों से ही पूछा  कि आज ऐसी कौन सी पार्टी है, जिसमें गुटबाजी नहीं है।अगर किसी पार्टी में गुटबाजी नहीं है तो वह सोई हुई है, और मरी हुई पार्टी है।
गुटबाजी पार्टी के लिए बहुत अच्छी बात है क्योंकि जितने ज्यादा गुट होंगे, पार्टी उतनी ही सक्रिय होगी।
पायलट ने कहा कि गुटों में बंटे हुए नेता अगर अलग-अलग ज्ञापन देते हैं और कार्यक्रम चलाते हैं तो उनका मकसद पार्टी के ही लिए ही होता है।इससे पार्टी की सक्रियता बनी रहती है।कांग्रेस के लिए गुटबाजी कोई विशेष मुद्दा नहीं है।उन्होंने उदाहरण दिया कि भाजपा नेता घनश्याम तिवाड़ी भी आये दिन सरकार के खिलाफ कुछ न कुछ बयान देते रहते हैं क्योंकि भाजपा में राजस्थान में सत्ता का एक ही केन्द्र है जो श्रीमती राजे है। श्रीमती राजे किसी की भी नहीं सुनती और अपने फायदे के लिए अपनी मनमानी करती हैं।राज्य सरकार के मंत्रियों, विधायकों और सांसदों की उनके सामने बोलने की हिम्मत नहीं है।उनके सामने कुछ नहीं कर पा रहे।

Share it
Share it
Share it
Top