जामा मस्जिद के शाही इमाम को आपराधिक मामले में राहत कैसे मिले !

जामा मस्जिद के शाही इमाम को आपराधिक मामले में राहत कैसे मिले !

sayyad ahmad bukhari
एक आपराधिक मामले में जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी अदालत से मामले को खारिज करने की अर्जी लगाने पहुंचे तो अदालत ने आपराधिक मामला खारिज करने से इंकार करते हुए कह दिया कि वे मस्जिद के प्रमुख हो का लाभ नहीं ले सकते और सांप्रदायिक तनाव के कल्पनातीत खतरे की आड़ में अदालतों की शक्ति से भाग नहीं सकते। यहां अदालत ने नेशनल हेराल्ड मामले का जिक्र करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के कोर्ट में पेश होने की मिसाल भी दे दी। इससे यह तो तय हो गया कि कानून के सामने सभी बराबर हैं, इसमें छोटा या बड़ा कुछ नहीं होता, इसलिए कहा जाता है कि काम ऐसे करो जिससे आपकी दलीलें दी जाएं न कि ऐसे काम करें कि खुद भी अपमानित हों और आपसे जुड़ी पद-प्रतिष्ठा भी अपमानित महसूस करे।
add-royal-copy

Share it
Top