जमानत मिली पर विधिसम्मत नहीं!

जमानत मिली पर विधिसम्मत नहीं!

बसपा मुखिया मायावती पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोपी पूर्व भाजपा नेता दयाशंकर सिंह को 50-50  हजार रुपये के दो निजी मुचलके पर जमानत मिल गयी, जिसके बाद वो मऊ जेल से रिहा हुए। इसी बीच मीडिया ने उन्हें घेर लिया, लेकिन उन्होंने बहुत ही समझदारी दिखाई और यह कहते हुए निकल गए कि ‘मैं कई दिनों से परिवार से नहीं मिला और मेरी पत्नी की तबियत खराब है। पहले मैं अपने परिवार से मिलूंगा फिर मीडिया से बात करूंगा।’ अब उन्हें कौन बताए कि यदि वो मीडिया से कोई भी बात करेंगे तो वो बहुत दूर तक जाएगी और इसके लिए उन्हें पुनः अदालत और जेल भी जाना पड़ सकता है। वैसे भी उनकी जमानत पर ही सवाल खड़े किए जा रहे हैं और इसलिए बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने कहा कि जमानत का आदेश विधिसम्मत नहीं है और इसे हाइकोर्ट में चुनौती दी जाएगी।

Share it
Top