जबरन अपने साथ ले जाने का विरोध करने पर किन्नर पर चाकुओं से हमला किया

जबरन अपने साथ ले जाने का विरोध करने पर किन्नर पर चाकुओं से हमला किया

गढीपुख्ता। कस्बे के मौहल्ला कश्यपपुरी में गुरु के साथ रहे एक किन्नर को दूसरे पक्ष के किन्नरों द्वारा जबरन अपने साथ ले जाने व विरोध करने पर चाकुओं से हमला कर घायल करने के मामले में पीड़ित ने न्यायालय के निर्देश पर तीन किन्नरों समेत आधा दर्जन लोगों के खिलाफ गढीपुख्ता थाने पर मुकदमा दर्ज कराया है। कस्बा गढीपुख्ता के मौहल्ला कश्यपपुरी निवासी हिना किन्नर कई वर्षों से अपने अपने गुरु रेशमा किन्नर के साथ रह रही है। आरोप है कि झिंझाना के मौहल्ला सैदमीर निवासी रीना किन्नर हिना पर अपने साथ रहने का दबाव बना रही थी, लेकिन हिना अपने गुरु को किसी भी कीमत पर छोड़ने के लिए तैयार नहीं थी। इसी से क्षुब्ध होकर कुछ समय पूर्व रीना किन्नर ने एक फर्जी वसीयत तैयार कर क्षेत्रा का बंटवारा कर दिया था, लेकिन हिना के गुरु रेशमा किन्नर ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई थी, जिसके चलते रीना हिना से रंजिश रखने लगी थी। बीती 20 जनवरी को किन्नर रीना, सोनिया व सन्नो तीन अन्य लोगों मुस्तकीम, सोनू व नपफीस निवासीगण सैदमीर थाना झिझाना गढीपुख्ता पहुंचे तथा हिना को जबरन अपने साथ ले जाने का प्रयास किया, जिसका हिना व उसके गुरु रेशमा किन्नर ने विरोध किया तो उनके साथ मारपीट करते हुए हिना पर चाकुओं से हमला कर दिया, जिसमें वह गंभीर रूप से जख्मी हो गई।
सहारनपुर में अमित शाह बोले, यूपी में सत्ता परिवर्तन के लिए जनता ज्यादा से ज्यादा करे वोट
हिना के शोर मचाने पर आरोपी जान से मारने की धमकी देते हुए पफरार हो गए। पीड़िता ने अपना डाक्टरी परीक्षण कराकर आरोपियों के खिलाफ गढीपुख्ता थाने पर तहरीर दी थी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की, जिसके बाद पीड़ित हिना ने न्यायालय की शरण ली। न्यायालय ने मामले को गंभीरता से लेते हुए गढीपुख्ता पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

Share it
Share it
Share it
Top