चौथे दिन टूटा बाजार, दो सप्ताह के निचले स्तर पर

चौथे दिन टूटा बाजार, दो सप्ताह के निचले स्तर पर

मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के बीच अधिकतर सेक्टरों में हुई बिकवाली से आज घरेलू शेयर बाजार लगातार चौथे कारोबारी दिवस पर टूटते हुये लगभग दो सप्ताह के निचले स्तर पर आ गये।
बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 0.43 प्रतिशत यानी 114.86 अंक लुढ़ककर 26,374.70 अंक तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.43 फीसदी यानी 35.10 अंक की गिरावट में 8,104.35 अंक पर रहा।
दोनों का यह 07 दिसंबर के बाद का निचला स्तर है। तेल एवं गैस, एनर्जी, पावर, यूटिलिटीज तथा पीएसयू को छोड़कर बीएसई के अन्य 15 समूह लाल निशान में रहे। सेंसेक्स में एशियन पेंट्स ने सर्वाधिक 2.35 प्रतिशत का नुकसान उठाया। सन फार्मा के शेयर भी दो फीसदी से ज्यादा टूटे। वहीं, गेल ने सबसे ज्यादा 2.23 प्रतिशत का मुनाफा कमाया। सेंसेक्स की शुरुआत 16.10 अंक की तेजी के साथ 26,505.66 अंक पर हुई और यही इसका दिवस का उच्चतम स्तर भी रहा। इसके बाद बाजार लगातार गिरावट में रहा। कारोबार के दौरान अंतिम आधे घंटे में बिकवाली तेज होने से एक समय यह 26,340.38 अंक के दिवस के निचले स्तर तक भी उतर गया। अंतत: यह गत दिवस की तुलना में 114.86 अंक नीचे 26,374.70 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स के विपरीत निफ्टी 13.45 अंक फिसलकर 8,126 अंक पर खुला और कुछ ही देर में 8,132.50 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद यह फिर गिरावट में चला गया। पूरे दिन यह हरे निशान में नहीं लौट पाया। कारोबार की समाप्ति से पहले 8094.85 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस के मुकाबले 35.10 अंक की गिरावट में 8,104.35 अंक पर बंद हुआ। मझौली तथा छोटी कंपनियों पर भी दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 0.51 प्रतिशत तथा स्मॉलकैप 0.46 प्रतिशत टूटकर क्रमश: 12,174.04 अंक तथा 12,057.69 अंक पर रहें। बीएसई में कुल 2,819 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,552 बढ़त में तथा 1,077 गिरावट में रहें जबकि 190 के शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ।

Share it
Top