चोट लगने से गई याददाश्त दोबारा लगी चोट तो आ गई वापस

चोट लगने से गई याददाश्त दोबारा लगी चोट तो आ गई वापस

 पानीपत। हरियाणा के गुड़गांव जिले में दो साल पहले अपनी याददाश्त खोने वाले युवक बलविंदर को जब सबकुछ याद आया तो परिवारवालों के पैरों तले जमीन खिसक गई। उसने दो साल बाद सिर में लगी चोट के बाद याददाश्त वापस आने की बात कही। उसने परिजनों को बताया कि उसकी याददाश्त कैसी गई थी।पानीपत के महादेव कॉलोनी में रहने वाले बलविंदर की कहानी बॉलीवुड और हॉलीवुड फिल्म के किसी कहानी से कम नहीं लगेगी। उसने अपनी याददाश्त जाने की बात जब परिजनों को बताई तो उन्हें सहसा विश्वास नहीं हुआ। उन्हें विश्वास ही नहींं हो रहा था कि कोई अपना उसके साथ ऐसा कर सकता है।बलविंदर ने आईटीआई करने के बाद दो साल पहले गुड़गांंव की एक कंपनी में नौकरी शुरू की। यहां वह अपने ताऊ के साथ रहता था। उसको वहां रहते हुए पंद्रह दिन ही हुए थे कि उसके घरवालों को उसके एक्सीडेंट की खबर मिली। उन्हें बताया गया कि बेहोशी की हालत में उसे निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। बाद में पता चला कि सिर में गहरी चोट लगने के कारण बलविंदर की याददाश्त चली गई है।कुछ दिनों पहले बलविंदर अपने परिजनों के साथ पानीपत से हिसार जा रहा था तो उनकी बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस हादसे में बलविंदर को एक बार फिर से सिर में गहरी चोट लगी और चमत्कार हो गया। उसकी याददाश्त वापस आ गई। इसके बाद जो खुलासा हुआ, उसने सबको हैरत में डाल दिया।
एक रहस्यमय कुआं, इसके पानी से हर चीज बन जाती है पत्थर
बलविंदर ने बताया कि उसका कोई रोड एक्सीडेंट नहीं हुआ था बल्कि ताऊ के लड़के सोनू ने सोते समय उसके सिर पर रॉड से हमला किया था। उसके साथ उस समय दो और साथी थे। अब जब यह खुलासा हुआ है तो परिजन पुलिस में मामला दर्ज करवाने के लिए थाने का चक्कर काट रहे हैं।परिवार के सदस्यों का कहना है कि बलविंदर के इलाज के लिए उन्होंने घर भी गिरवी रख दिया। बलविंदर की हालत अभी ऐसी है कि वो ठीक से न बोल पाता है और न ही चल सकता है। पीड़ित परिवार इस मामले में गुड़गांव पुलिस के कई अफसरों से मिल चुके हैं। परिवार का पुलिस पर आरोप है कि उन पर समझौता करने का दबाव बनाया जा रहा है।

Share it
Share it
Share it
Top