चना,खाद्य तेल,चीनी लुढ़के, गेहूं उछला, दालों में घटबढ़

चना,खाद्य तेल,चीनी लुढ़के, गेहूं उछला, दालों में घटबढ़

नई दिल्ली। विदेशी बाजारों में खाद्य तेलों में रही भारी गिरावट के बीच घरेलू बाजार में सुस्त ग्राहकी से दिल्ली थोक जिंस बाजार में गत सप्ताह खाद्य तेलों की कीमतें लुढ़क गयीं। मांग घटने से चीनी और चना भी नरम हो गये जबकि मांग निकलने से गेहूं के भाव चढ़ गये। वहीं,दालों में घटबढ़ रही।
तेल-तिलहन : विदेशी स्तर पर मलेशिया के बुरसा मलेशिया डेरिवेटिव एक्सचेंज में पाम ऑयल का मई वायदा आलोच्य सप्ताह में 93 रिंगिट लुढ़ककर सप्तांहात पर 2770 रिंगिट पर बंद हुआ। मई का अमेरिकी सोया वायदा भी 1.8 सेंट की साप्ताहिक गिरावट के साथ सप्ताहांत पर 32.64 सेंट प्रति पौंड पर बंद हुआ।
घरेलू बाजार में मांग की कमी से बिनौला तेल 250 रुपये, सरसों तेल 150 रुपये और चावल छिलका तेल, सोया रिफाइंड, सोया डिगम तथा पाम ऑयल 100-100 रुपये प्रति क्विटल सस्ता हो गया। मूंगफली तेल तथा तिल तेल के भाव इससे पहले के सप्ताह पर टिके रहे।
आलोच्य सप्ताह में सप्तांहात पर बिनौला तेल 6,350, सरसों तेल 7,350, मूंगफली तेल 9,500, चावल छिलका तेल 6,000, तिल तेल 7,700, सोया रिफाइंड 7,000, सोया डिगम 6,800, पाम ऑयल 6,300 रुपये प्रति क्विटल पर रहा ।
तिलहन में सरसों 5000..5100, तिल सफेद 6000.. 6500, तिल लाल 5500..6000, खल सरसों 2000..2100, बिनौला 2000..2200 रुपये प्रति क्विटल पर पड़े रहे।
केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली हेलीकॉप्टर में चढ़ते समय गिरकर घायल, दिल्ली लाया गया
दाल-दलहन : समीक्षाधीन सप्ताह में मांग घटने से चने में 250 रुपये प्रति क्विटल की गिरावट रही और चना दाल भी 100 रुपये प्रति क्विटल टूट गया। इसके अलावा मूंग दाल में 50 रुपये प्रति क्विटल की नरमी रही । उड़द दाल 200 रुपये और अरहर दाल में 50 रुपये की प्रति क्ंिवटल की तेजी रही। मसूर दाल के भाव स्थिर रहे।
शनिवार को बाजार बंद होने पर चना 5,150-5,175, दाल चना 6,000-6,500, मसूर काली 5,400-5,800, मलका मसूर 5,800-6,600, मूंग 5,450-5,950, मूंग दाल छिलका 5,750-6,250, मूंग दाल धोवा 6,150-6,650, उड़द 6,500-6,900, दाल उड़द छिलका 7,100-7,600, उड़द धोवा 7,000-7,800, अरहर 6,450-6,850 अरहर दाल 6,750-7,150 रुपये प्रति क्ंिवटल रही।
गुड़-चीनी : चीनी मिलों के शीर्ष संगठन इस्मा ने चालू चीनी सत्र में चीनी उत्पादन अनुमान को घटाकर करीब 203 लाख टन कर दिया है। इससे पहले इस्मा ने 25 जनवरी को जारी रिपोर्ट में चालू चीनी सत्र के लिए 213 लाख टन चीनी उत्पादन होने का अनुमान जताया था।
सपा में शुरू हुआ हार के कारणों पर मंथन..मुलायम ने कांग्रेस के साथ गठबंधन को हार का जिम्मेदार बताया
संगठन ने 25 जनवरी को चीन उत्पादन के अनुमान में कटौती की थी और दो महीने से भी कम समय में यह दूसरी कटौती है। उसका कहना है कि 25 जनवरी को हुई बैठक के बाद अनुमान जारी किया गया था लेकिन इसके बाद जनवरी तथा फरवरी में गन्ने की फसल अनुमान से बहुत कम हुई जिससे चीनी उत्पादन का पहले किया अनुमान भी कम 10 लाख टन कम करके 203 लाख टन कर देना पड़ा है।
समीक्षाधीन सप्ताह में सामान्य आपूर्ति के बीच मांग घटने से चीनी की सभी किस्मों में 15 रूपये प्रति क्ंिवटल की नरमी रही जबकि गुड़ के भाव अपरिवर्तित रहे।
सप्ताहांत पर चीनी एस. 3,925..4,040, चीनी एम. 3920…4030, मिल डिलिवरी 3905..4015 रुपये प्रति क्ंिवटल बोली गयी।
सप्ताहांत पर गुड़ 3,100..3,200 रुपये प्रति क्विटल पर टिका रहा। इसके अलावा शक्कर, खांडसारी और बूरा के भाव पिछले भाव पर टिके रहे।
अनाज : समीक्षाधीन सप्ताह में अनाज मंडी में पर्याप्त आपूर्ति के बीच मांग निकलने से गेहूँ 120 रुपये प्रति क्ंिवटल चढ़ गया। पिछले सप्ताह इसमें 60 रुपये की गिरावट दर्ज की गयी थी। इस दौरान सामान्य कारोबार के बीच चावल एवं मोटे अनाजों में टिकाव देखा गया।
सप्ताहांत पर गेहूँ :गेहूँ दड़ा 1,960-1,970, देसी एमपी 2,700-3,470 , आटा (50 किलो बोरी) 895-900, मैदा 945-950, रवा (सूजी) 1090-1100 (50 किलो बोरी), चोकर 620-630 रुपये पर बंद हुये।
समीक्षाधीन सप्ताह में चावल की बासमती औसत किस्म 4500…4600, परमल 1750..1775, परमल सेला 2250..2350, आरआर (आठ) 1650..1670 रुपये पर बंद हुये।

Share it
Top