गैस एक खतरनाक बीमारी…है कई रोगों की जड़

गैस एक खतरनाक बीमारी…है कई रोगों की जड़

 आज के आधुनिक युग में आधुनिक साधनों द्वारा प्रत्येक कार्य करना सहज हो गया हैं। सुख-सुविधाएं उपलब्ध होने से इंसान आलसी हो गया है। बस बैठे-बैठे गैस की शिकायत शुरू हो जाती है। घूमना-फिरना भी इतना नहीं हो पाता क्योंकि समय ही नहीं मिलता।
गैस एक खतरनाक बीमारी है। इसके होने व शरीर में रूकने से सिर-दर्द, पेट दर्द, उल्टियां, अफारा, चक्कर आना, मुंह का स्वाद कड़वा होना आदि समस्याएं पैदा हो सकती हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए क्यों न रसोईघर में उपलब्ध घरेलू वस्तुओं को ही प्रयोग किया जाए। 
बदल गई है औरत…नयापन उसकी नई सोच की देन !

– आधा चम्मच अजवायन, पिसे काले नमक के साथ मिला कर गुनगुने पानी से लें।
– अजवायन व मोटी इलायची पानी में काफी देर तक उबाल कर छान लें। इसमें थोड़ा सा काला नमक व हींग डाल कर हल्का गुनगुना पी लें। गैस, उल्टी में आराम मिलेगा।
– बच्चों के पेट दर्द होने पर हींग पीस कर पानी में घोल कर नाभि के चारों ओर लगाएं।
– भोजन के बाद दही के मटठे में अजवायन व काला नमक, भुना जीरा मिलाकर पिएं।
मसाला ही नहीं…! अत्यंत गुणकारी औषधि भी है तेज़पत्ता

– मुनक्के व लहसुन की फांक खाना खाने के बाद चबा कर निगल जाएं। रूकी हुई हवा निकलती है व कमर दर्द व सर्दी से जकड़े शरीर में भी आराम मिलता है।
– अलका अमरीश चौधरी

Share it
Share it
Share it
Top