खाद्य तेलों में मिश्रित रुख, चीनी, दाल मजबूत, चना नरम

खाद्य तेलों में मिश्रित रुख, चीनी, दाल मजबूत, चना नरम

नई दिल्ली। वैश्विक स्तर पर खाद्य तेलों में गिरावट के बीच आज दिल्ली थोक जिंस बाजार में इनमें घटबढ़ रही। वहीं, दालों और चीनी मे तेजी रही जबकि चने में नरमी देखी गई।तेल-तिलहन : अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में मलेशिया के बुरसा मलेशिया डेरिवेटिव एक्सचेंज में पाम ऑयल का अगस्त का वायदा 55 रिंगिट उतरकर 2525 रिंगिट प्रति टन बोला गया। जुलाई का अमेरिकी सोया वायदा भी 0.20 सेंट लुढ़ककर 32.56 सेंट प्रति पौंड पर आ गया। स्थानीय बाजर में ग्राहकी आने से सोया रिफाइंड तथा सोया डिगम 50-50 रुपये तथा सरसों तेल 200 रुपये प्रति कुन्तल चढ़ गया। वहीं तिल तेल का कारोबार मंदा रहा जिससे इसके भाव 200 रुपये प्रति कुन्तल गिर गये। बिनौला तेल, मूँगफली तेल, चावल छिलका तेल और पाम ऑयल में टिकाव रहा। इनके अलावा अखाद्य तेलों के दाम भी कमोबेश गत दिवस के स्तर पर ही टिके रहे।
गुड़-चीनी : बाजार में चीनी की आपूर्ति कुछ कम हुई है। इस बीच ग्राहकी आने से चीनी एम. के भाव 50 से 60 रुपये प्रति कुन्तल चढ़ गये। हालाँकि, चीनी एस. और मिल डिलिवरी गत दिवस के स्तर पर ही टिके रहे। गुड़ के भाव में भी कोई बदलाव नहीं हुआ।
दाल-दलहन : ग्राहकी निकलने से दालों में तेजी रही। मसूर दाल 50 रुपये, चना दाल 100 रुपये तथा उड़द और मूँग दाल 200-200 रुपये प्रति कुन्तल की तेजी में रही। अरहर दाल के भाव अपरिवर्तित रहे। वहीं, आपूर्ति बढऩे से चना 150 रुपये प्रति कुन्तल नरम पड़ा।
अनाज : आवक और उठाव बराबर रहने से गेहूँ के भाव स्थिर रहे। चावल तथा मोटे अनाजों के दाम में भी कमोबेश कोई बदलाव नहीं हुआ।

Share it
Top