क्रियाशील बनकर चुस्त रखें दिमाग को

क्रियाशील बनकर चुस्त रखें दिमाग को

शरीर को चुस्त रखने के लिए हमें सक्रिय रहना पड़ता है। इसी प्रकार दिमाग को भी चुस्त और जागरूक रखने के लिए हमें कुछ दिमाग संबंधी क्रियाओं पर ध्यान देना है जिससे हमारा दिमाग चुस्त और स्वस्थ बना रहे।
– दिमाग और शरीर को रिचार्ज करने के लिए दिन में 15 से 20 मिनट का आराम जरूरी है। इसे समय बर्बादी न समझें। शरीर और दिमाग को थोड़ा आराम कुछ देर के बाद जरूर देना चाहिए।
– थोड़ा बहुत नियमित पढ़ते रहें जो आपके दिमाग को सक्रिय रखने में मदद करे जैसे जनरल नॉलेज बढ़ाने के लिए कुछ भी पढ़ें। कोई ऐसा गेम खेलें जिसमें दिमाग का पूरा प्रयोग हो जैसे स्क्रबल, क्रॉस वर्ड, फिल इन द ब्लैंक्स, रिडल्स आदि।
– लूडो, स्नेक और लैडर, शतरंज, व्यापार भी खेल सकते हैं।
– पजल्स भी दिमाग को चुस्त बनाते है।तापमान बढने से बढती है बीमारी– डांस सीखकर या सिखा कर भी आप अपने ब्रेन को सक्रिय रख सकते हैं। डांस से हमारे मस्तिष्क का रक्त प्रवाह बढ़ता है और डिमेंशिया जैसी बीमारी से भी बचा जा सकता है।
– अपने दिमाग को सक्रिय रखने के लिए अन्य भाषाओं को सीखने का प्रयास करें। ऐसा करने से मस्तिष्क तेज होता है।
– अपनी भावनाओं को पेन की मदद से पेपर पर उतारने से दिमाग चुस्त बना रहता है। इसलिए शायद डायरी लिखने को एक अच्छी आदत माना जाता है।
– कोई भी म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट बजाना सीख सकते हैं। अकेलेपन और तनाव से भी छुटकारा मिलेगा और दिमाग को अच्छी खुराक मिलेगी जिससे दिमाग शांत रहेगा।
स्वाद लें पर स्वास्थ्य पर आंच न आने दें
– अपने से अधिक योग्य लोगों से वार्तालाप कर अपने दिमाग का विकास किया जा सकता है। अपने से कम योग्य या जरूरतमंद को पढ़ा कर अपने दिमाग को उपजाऊ रखा जा सकता है।
– लोगों, रिश्तेदारों, संबंधियों से मिलते रहें। इससे आपकी याददाश्त बढ़ेगी और दिमागी सुकून भी मिलेगा।
– सबसे बढिय़ा अपनी सोच सकारात्मक रखें और खुश रहें। इससे भी दिमाग चुस्त रहेगा।
– सुनीता गाबा

Share it
Top