क्या आप भी कार ड्राइव करती हैं..? तो इन बातों का रखें ध्यान..!

क्या आप भी कार ड्राइव करती हैं..? तो इन बातों का रखें ध्यान..!

 आज के समय में सिर्फ युवकों में ही नहीं बल्कि युवतियों में भी कार ड्राइविंग का शौक बेतहाशा बढ़ता जा रहा है। युवतियां कार ड्राइव करते हुए अपने कार्यालय, कॉलेज, पिकनिक स्पॉट या सम्बन्धियों से मिलने जाती दिखायी देती हैं। ड्राइविंग करना आज के समय में सिर्फ शौक ही नहीं कहा जाएगा, बल्कि इसे स्वावलंबित होना भी कहा जा सकता है। मर्द के घर पर न रहने पर भी स्वयं ड्राइव करते हुए कहीं भी जाया जा सकता है।
जब आप सड़क पर कार चला रही हों तो कुछ खास बातों को ध्यान में रखकर एक कुशल चालक बन कर व्यक्तित्व को निखार सकती हैं। सुरक्षा की दृष्टि से कार चालक को तथा अगली सीट पर बैठने वाले लोगों को बेल्ट अवश्य लगा लेना चाहिए। अचानक ब्रेक लगने पर या पीछे से धक्का लगने पर यह बेल्ट सुरक्षा प्रदान करती है।
सड़क पर वाहन चलाते समय जो व्यक्ति टै्रफिक नियमों का पालन नहीं करता, उसे अकुशल चालक कहा जाता है भले ही वह गाड़ी चलाने में कितना भी कुशल क्यों न हो? अक्सर यही देखा गया है कि महिला चालक आगे जा रही कार से आगे निकलने के लिए जब कार को ‘ओवरटेक’ करती हैं तो इस क्रम में वे उस कार से एकदम सटाकर अपनी कार को आगे निकालना चाहती हैं जबकि ऐसा करने से पहले उसे सिगनल (इंडीकेटर) का इस्तेमाल करना चाहिए। जब आगे वाली गाड़ी पास दे, तभी अपनी गाड़ी को आगे निकालना चाहिए।
जब आप गलत लेन में गाड़ी चला रही हों, तब बिना सिगनल दिए एकदम से दाहिने की ओर वाले लेन में गाड़ी कभी भी न मोड़ें। ऐसा करने से पीछे से सही लेन पर आने वाली गाड़ी आपकी गाड़ी से टकरा सकती है। गाड़ी में लगे सिगनल का प्रयोग भी लगभग सौ मीटर की दूरी से ही किया जाना चाहिए।
पहला दोस्त : यार ये शादी का क्या मतलब होता है….?

अधिक भीड़ वाले इलाके में गाड़ी की रफ्तार को कम करके ही चलें। एकाएक कार की रफ्तार को कम करने से पीछे आने वाली गाड़ी को असुविधा का सामना करना पड़ सकता है। एकाएक ब्रेक लगाने से पीछे आने वाली गाड़ी असंतुलित होकर आपकी गाड़ी से टकरा सकती है या दुर्घटनाग्रस्त हो सकती है।
लालबत्ती के पास जोर से हार्न बजाना टै्रफिक नियम के खिलाफ है। उस स्थान पर जोर से हार्न बजाना या फिर हरी बत्ती होने से पहले आगे बढऩा अपराध माना जाता है और इस कारण आपको जुर्माना भी देना पड़ सकता है। लाल बत्ती के पास अगर अपनी गाड़ी बन्द कर देती हैं तो पीली बत्ती जलते ही गाड़ी को स्टार्ट कर दें। इससे असुविधा का सामना नहीं करना पड़ता।
पति परमेश्वर या कामेश्वर….!

रात के समय में तेज रोशनी से आती हुई गाड़ी के लिए असुविधा होती है। कार की रोशनी धीमी रखनी चाहिए। सामने से आ रही गाड़ी की रोशनी से चालक की आंखें कुछ देर के लिए चुंधिया जाती हैं और गाड़ी का नियंत्रण खो सकता है। पास लेने के लिए ओवरटेक करने की बजाय डिपर का इस्तेमाल करना चाहिए।
कार ड्राइव करते समय मोबाइल का प्रयोग कभी न करें। हमेशा कार को सड़क किनारे खड़ी करके ही मोबाइल से बात करें। शराब पीकर गाड़ी चलाना भी दुर्घटना को आमंत्रित करना हो सकता है। दरवाजा बन्द करते समय इसका ध्यान रखें कि आपका कोई कपड़ा दरवाजे में न फंसे।
– आरती रानी

Share it
Top