क्या आप पहनती हैं स्लीवलैस परिधान..?

क्या आप पहनती हैं स्लीवलैस परिधान..?

 आज की नारी अपने सौंदर्य के प्रति जागरूक हो गई है। सौंदर्य व फैशन के इस युग में परिधानों की महत्ता बढ़ी है। डिजाइनर भी नारी की आवश्यकता के अनुरूप विभिन्न डिजाइनों में परिधान तैयार करने में लगे हैं।
इसी के चलते स्लीवलैस परिधानों का चलन आम हो गया है। वैसे स्लीवलैस परिधान हर नारी को नहीं जंचते, अत: अपने रंगरूप, फिगर आदि को ध्यान में रखकर ही स्लीवलैस परिधान का चयन करना चाहिए।
यदि आपका रंग काला या अधिक सांवला है तो स्लीवलैस परिधान कदापि न पहनें। इससे आपकी फूहड़ता का परिचय मिलेगा, क्योंकि काली बाहें आपको पूर्ण आकर्षणहीन बना देंगी।
कई बार देखा जाता है कि रंग गोरा होने के बावजूद अगर बाहें अधिक पतली हों तो भी स्लीवलैस परिधान आपकी शोभा घटाते हैं। इसका मुख्य कारण यह है कि इससे बाहों का पतलापन अधिक उजागर हो जाता है जो देखने में भद्दा लगता है।
बाहों का थुलथुलापन भी स्लीवलैस परिधान की शोभा नष्ट करता है। यदि आपकी बाहें अधिक मोटी हैं मगर आपको स्लीवलैस परिधान पहनने का शौक है तो बाहों को व्यवस्थित आकार देने हेतु नियमित बाहों के व्यायाम करें। इससे बाहों पर जमा अतिरिक्त चर्बी समाप्त हो जाएगी व आप अपने इस शौक को पूरा कर सकेंगी।
जब हो गले में खिचखिच…!

स्लीवलैस परिधान पहनने हेतु बाहों की नियमित सफाई आवश्यक है। बेसन, गुलाबजल व मलाई को बराबर मात्रा में मिलाकर इससे बाहों की सफाई करें। कुहनी की सफाई हेतु आधा नींबू उस रगड़ें। अवांछित बालों को दूर करने हेतु वैक्सिंग सर्वोत्तम उपाय है। इसके साथ ही बगलों के बालों की सफाई भी अत्यंत आवश्यक है। इसके लिए हेयर रिमूवर क्रीम या साबुन अथवा वैक्सिंग का इस्तेमाल भी किया जा सकता है।
अजवायन से घरेलू उपचार

यदि आप स्लीवलैस परिधान पहन कर धूप वाले स्थान पर जा रही हैं तो बाहों की त्वचा को धूप से झुलसने से बचाने के लिए जाने से पूर्व सनस्क्रीन लोशन व टेलकम पाउडर का प्रयोग अवश्य करें। बगलों में भी टेलकम पाउडर का छिड़काव करें। बाहों पर लोशन का इस्तेमाल भी अति उत्तम है। हर समय स्लीवलैस परिधान पहनने से बाहों की त्वचा पर दुष्प्रभाव पड़ता है, इसलिए कभी-कभी ही स्लीवलैस परिधान पहनें।
– भाषणा बांसल

Share it
Top