क्या आप जानते हैं…नाश्ता न करना आपको दे सकता है मोटापा..?

क्या आप जानते हैं…नाश्ता न करना आपको दे सकता है मोटापा..?

 सुबह जल्दी ऑफिस पहुंचने की जल्दी में अधिकतर लोग नाश्ता तक नहीं करते। दिन की शुरूआत बिना नाश्ते के करने का अर्थ समझिए जैसे बिना पैट्रोल के गाड़ी। पैट्रोल के बिना गाड़ी नहीं चल सकती तो आप बिना नाश्ते के कार्य कैसे कर सकते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार नाश्ता करना बहुत ही महत्त्वपूर्ण है। जब हम नाश्ता करते हैं तो हमारे मस्तिष्क को शक्ति मिलती है और व्यक्ति अधिक सजगता से कार्य करता है।
विभिन्न शोधों से यह पता चला है कि जो बच्चे नाश्ता करके स्कूल जाते हैं उनमें एनर्जी अधिक होती है, वे अधिक ध्यान से पढ़ते हैं, उनकी मस्तिष्क क्षमता भी अच्छी पाई गई और उन्होंने अच्छी परफारमेंस दिखाई। जो बच्चे नाश्ता नहीं करते, वे पढ़ाई में ठीक तरह से ध्यान नहीं दे पाते। उनमें थकावट व सुस्ती रहती है। इसलिए नाश्ता करना बेहद आवश्यक होता है।
हमें पूरे दिन में जितनी डाइट की आवश्यकता होती है उसकी एक तिहाई पूर्ति नाश्ता करता है, इसलिए जो व्यक्ति नाश्ता नहीं करते, वे भले दिन में कितना भी खा लें, जिन पोषक तत्वों की वे खो चुके होते हैं, उन्हें पुन: प्राप्त नहीं हो पाते। विशेषज्ञों का यह भी मानना है जब हम सुबह नाश्ता नहीं करते तो हमारे शरीर की चयापचय क्रिया धीमी पड़ जाती है जिसके कारण जब हम दोपहर को लंच करते हैं तो शरीर के लिए उससे मिलने वाली एनर्जी खर्च करना और मुश्किल हो जाता है जिसके कारण वजन बढऩे लगता है।
घरेलू हिंसा से कब मुक्त हो पायेगी नारी…?
यही नहीं, जब व्यक्ति ब्रेकफास्ट नहीं करता तो वह ओवरईटिंग करता है और स्नैक्स आदि लेता है जो बिलकुल पौष्टिक नहीं होते। नाश्ता करना महत्त्वपूर्ण है तो नाश्ते में क्या खाया जाए, यह भी बहुत महत्त्वपूर्ण है। नाश्ते में प्रोटीन, कार्बोहाइडे्रट, फाइबर, कैल्शियम, आयरन, विटामिन व मिनरल सभी पौष्टिक तत्वों का होना आवश्यक है। मांसपेशियों के निर्माण के लिए प्रोटीन, स्वस्थ पाचन प्रक्रिया के लिए फाइबर, हड्डियों के लिए कैल्शियम, लाल रक्त कणों के निर्माण के लिए आयरन और एनर्जी के लिए कार्बोहाइडे्रट लेना आवश्यक है इसलिए अपने नाश्ते में कम से कम एक फल, कोई भी डेयरी प्रोडक्ट व प्रोटीनयुक्त पदार्थ अवश्य होने चाहिए।
डेयरी प्रोडक्ट्स को कहें बाय-बाय..!

अनाज की भी एक सर्विंग अवश्य लें जैसे पोहा, उपमा, इडली, ब्रेड, ढोकला आदि। डेयरी प्रोडक्टस में आप दूध, दही, पनीर ले सकते हैं। प्रोटीन के अच्छे स्रोत हैं अंडा, बीन्स, सोयामिल्क, भुना हुआ चना और नटस आदि।
– सोनी मल्होत्रा

Share it
Top