कोल्ड से करें बचाव..गुनगुना पानी पिएं

कोल्ड से करें बचाव..गुनगुना पानी पिएं

 पहले तो कोल्ड बस सर्दी लगने पर ही होता था। अब वातावरण में प्रदूषण की वजह से साल भर कभी न कभी किसी न किसी को जुकाम लगा ही रहता है चाहे वो सर्दी का जुकाम न होकर एलर्जी का जुकाम होता है। वातावरण से प्रदूषण वाली एलर्जी से बचना थोड़ा मुश्किल होता है फिर भी कुछ बातों का ध्यान रख हम स्वयं को कोल्ड से बचा सकते हैं:-
– सामने वाले को या किसी जान पहचान वाले को कोल्ड हो और उससे हाथ मिलाने पड़ें तो बाद में फौरन हाथ धो लें क्योंकि कोल्ड वायरस से फैलता है। जब हाथ मिलाते हैं तो कोल्ड वाले संक्रमण आपके हाथों पर आ जाते है। वही हाथ हम नाक, कान, आंख, मुंह तक ले जाते हैं। ऐसे में फौरन हाथों का धोना ही बेहतर साधन है।
– कोल्ड वाले लोगों के बहुत नजदीक न रहें। उनसे थोड़ी दूरी बना कर रखें।
– जिन लोगों का इम्यून सिस्टम वीक होता है उन्हें जल्दी कोल्ड पकड़ता है। ऐसे में आसार दिखते ही थोड़ा घर पर आराम करें ताकि इम्यून सिस्टम और वीक न हो और वो वायरस से लड़ सके।
चौंकिए नहीं…मोटापा कम करता है चुम्बन..!

– कोल्ड से बचने के लिए डाइट अच्छी लें। डिब्बा बंद फूड, जूस से बचें इससे एलर्जी और आक्रामक होती है। घर का बना गर्म खाना खाएं। खाने के थोड़े समय बाद गुनगुना पानी पिएं।
– सफर करने वाले लोगों को प्रतिदिन नमक मिले गर्म पानी के गरारे करने चाहिए ताकि प्रदूषण का प्रभाव गले को नुकसान न पहुंचा सके।
– लिक्विड डाइट अधिक लें। गर्मियों में आप ताजा स्वच्छ पानी, लस्सी, ताजे फल सब्जी का जूस, चाय आदि ले सकते हैं। सर्दी में गुनगुने पानी में थोड़ा शहद और नींबू का रस मिलाकर, ताजी सब्जियों का गर्म सूप, काफी ले सकते हैं। इससे शरीर में ताजगी बनी रहेगी।– कोल्ड से बचने के लिए विटामिन सी की गोली कुछ दिन तक नियमित लें ताकि इम्यून सिस्टम स्ट्रांग बना रहे।
– सर्दियों में कोल्ड हो तो गर्म कपड़े पर्याप्त पहनें।
– प्रात: तुलसी के एक या दो दल ताजे पानी के साथ निगल लें। तुलसी भी इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग बनाने में मदद करती है।
– मेघा

Share it
Top