कोच बनने की होड़ में नहीं कस्टर्न

कोच बनने की होड़ में नहीं कस्टर्न

जोहानसबर्ग। भारतीय क्रिकेट टीम के विश्व विजेता कोच गुरू ग्रैग के रूप में मशहूर गैरी कस्टर्न ने स्पष्ट किया है कि वह अनिल कुंबले के बाद टीम इंडिया का अगला मुख्य कोच बनने की होड़ में शामिल नहीं है। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज कस्टर्न के भारतीय टीम का अगला कोच बनने की होड़ में शामिल होने की खबरें सामने आ रही थीं लेकिन उन्होंने साफ कर दिया है कि वह फिलहाल तीनों प्रारूपों में किसी टीम से बतौर कोच जुडऩे की स्थिति में नहीं हैं। कुंबले के चैंपियंस ट्राफी के इस्तीफे के बाद से ही भारतीय टीम के लिये अब नया कोच खोजा जा रहा है जिसमें पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री सरीखे नाम शामिल हैं। हालांकि कस्टर्न भारतीय टीम के सफल कोचों में गिने जाते हैं जो 2008 से 2011 के बीच कोच रहे और टीम को 2011 विश्वकप दिलवाने में भी उनकी अहम भूमिका रही थी। कस्टर्न के तीन वर्ष के कार्यकाल में भारत ने आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड से सीरीज जीतीं और दक्षिण अफ्रीका से टेस्ट सीरीज ड्रा कराई जबकि विश्वकप उनकी बड़ी उपलब्धि रहा जिसके ठीक बाद वह अपने पद से हट गये थे। कुंबले के इस्तीफे के बाद एक बार फिर उनका नाम इस पद के लिये सामने आ रहा है लेकिन पूर्व दक्षिण अफ्रीकी कोच ने इन खबरों का खंडन किया है। उन्होंने कहा मुझे खुशी है कि इस पद के लिये एक बार फिर से मेरे नाम की चर्चा हो रही है लेकिन मैं फिलहाल भारतीय टीम के साथ तीनों प्रारूप में पूर्णकालिक कोच के रूप में काम करने की स्थिति में नहीं हूं। हालांकि पहले भारतीय टीम के साथ मेरा कोच के रूप में अनुभव काफी बढिय़ा रहा था।

Share it
Top