कामकाजी महिलाएं और नाश्ते की तैयारी..क्या कर सकती है आप …?

कामकाजी महिलाएं और नाश्ते की तैयारी..क्या कर सकती है आप …?

2सुबह का समय, पति-पत्नी दोनों कामकाजी। दोनों का ध्यान घड़ी की ओर ही है और दोनों ही सोचते हैं काश, समय थोड़ा रूक जाता, पर सच है कि भला समय रूका है किसी के लिए। सुबह-सुबह इतनी ताम-झाम होती है कि अक्सर ऐसा होता है कि दोनों बिना नाश्ता किए ही दफ्तर चले जाते हैं। परिणामस्वरूप आसरा होता है कैंटीन या रेस्तरां का। यह हाल है कामकाजी व्यक्ति का, अब चाहे वह महिला हो या पुरूष।
यह समस्या तो है लेकिन इसका निदान भी है। यही सोच कर बड़ी-बड़ी कंपनियों ने मैगी, नूडल्स, इडली, दोसा आदि तरह तरह के इंस्टेंट नाश्ते तैयार किए हैं। इसमें संदेह नहीं कि आमतौर पर झटपट तैयार होने वाले ये स्टार्चयुक्त नाश्ते विभिन्न प्रकार के प्रिजर्वेट्वि आदि का मिश्रण होते हैं और हमारे शरीर के लिए हानिकारक सिद्ध होते हैं।
आजकल पाव के साथ-साथ भाजी की भी कंपनियों ने व्यवस्था कर दी है। इसके अतिरिक्त दाल मखनी, पालक पनीर, आलू गोभी आदि भी मौजूद हैं लेकिन उनमें वह पौष्टिकता नहीं है जो ताजी सब्जियों में विद्यमान रहती है। हम कमा रहे हैं प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से आरामतलब जीवन के लिए, जहां सुकून का खाना, सुकून का पहनना और केवल सुकून ही हो लेकिन इस भाग-दौड़ में समय इतना सिमटता चला जा रहा
बनाइये कुछ विशेष व्यंजन..और लिजिए स्वाद के चटकारे
है कि नौकरी करने के मायने खोते जा रहे हैं लेकिन जहां समस्या है वहीं उसका निदान भी है। बस चाहिए श्रीमान व श्रीमती जी की थोड़ी सूझ-बूझ की।जी हां, हर काम एडवान्स कीजिए। यही दौर है वर्तमान का। नाश्ता कल खाना है तो आज रात ही थोड़ा बहुत जुगाड़ करना होगा ताकि कल सुबह आराम से खा पी कर ऑफिस जा सकें। झटपट के लिए अंकुरित मूंग, पत्ता गोभी कतरी हुई और सादी ब्रेड, एक गिलास दूध, उबले अंडे जैसे हल्के नाश्ते काफी हैं।
इसे तैयार करने के लिए सुबह वक्त नहीं है तो आप कुछ काम पहले ही रात को निपटा लीजिए, जैसे अंडे उबाल कर फ्रिज में रख दीजिए। इसके अतिरिक्त आमलेट, पैनकेक जैसे हल्के व्यंजन का घोल आप पहले ही बनाकर तैयार कर सकते हैं। ये व्यंजन न केवल बनाने में आसान होते हैं वरन पौष्टिकता से भरपूर होते हैं। एक रात पहले घोल तैयार कर रखें।
अब चूंकि कम खाना और सेहतमंद रहने का जमाना है, तैलीय वस्तु आदि की स्वास्थ्य के लिए मनाही है, अत: आप भी अमल कीजिए किन्तु झटपट। मूंग को अंकुरित करने के लिए एक दिन थोड़ा अधिक भिगो दीजिए ताकि पांच दिनों तक आप निश्चिंत रह सकते हैं। इसे किसी बंद डिब्बे में रखें ताकि वह यथावत ताजी रहे। इसके अतिरिक्त उबले मटर, फूलगोभी, गाजर, दो पीस ब्रेड, छोटे आलू, चाहें तो अंडा भी डाल सकते हैं। नमक, हरी मिर्च व फैट फ्री बटर का प्रयोग कर कटलेट बनाकर फ्रिज में रखें और जब चाहे ओवन में बेक कर दीजिए। तैयार है सुबह-सुबह पौष्टिकता से भरपूर तेलरहित आपका झटपट नाश्ता।
इस तरह अनेक सादे व्यंजन तैयार किए जा सकते हैं। अगर आपका बच्चा है तो उसके लंच बॉक्स की समस्या सामने आती है क्योंकि बच्चों
यूं बहकते हैं कदम किसी और की तरफ
को कैंटीन आदि की आदत डालना उचित नहीं। चीज स्लाइस के साथ सादे ब्रेड या फिर विभिन्न स्वादों में कटलेट व आमलेट आदि भी दे सकते हैं जो एक रात पहले तैयार किये जा सकते हैं।दफ्तर से आने के पश्चात व बच्चे के स्कूल से आने के पश्चात आप मिल्क शेक या मौसमी फलों से तैयार किए हुए पौष्टिक शेक के साथ एक दो सादे सैंडविच खा सकते हैं। बच्चों के लिए केक आदि घर में ही विभिन्न स्वादों में बनाकर रखें ताकि नाश्ते के प्रति उनकी रूचि बनी रहे।
आप समय की बचत चाहती हैं और सेहत भी। उसके लिए बिजली के उपकरण भी प्रयोग में लाने का प्रयास कीजिए जैसे मिक्सी, ओवन, माइक्रोवेव, रोटी मेकर, आदि। इन वस्तुओं से न केवल आपका काम आसान हो जाएगा वरन् समय से पेट भर कर ऑफिस भी जा सकेंगे।
सुबह अपने ऊपर सारे काम न लादकर थोड़ी बहुत मदद आप अपने श्रीमान से भी लीजिए जिससे घर के अनय काम झटपट निपटाये जा सकें। बस आवश्यकता है आपकी सूझ-बूझ की जिससे समय पर नाश्ता तैयार किया जा सके और आप व पति शांति से दफ्तर जा सकें तथा आपका बच्चा स्कूल जा सके।[आप ये ख़बरें अपने मोबाइल पर पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल unnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे.]. 

Share it
Top