ब्रेकिंग न्यूज़
Search

कांधला में पुलिस को फायरिंग कर डकैती की झूठी सूचना देना महंगा पड़ा

कांधला। कस्बे के इदरीश बेग बिहार कालोनी निवासी एक व्यक्ति को पुलिस को फायरिंग कर डकैती की झूठी सूचना देना महंगा पड़ गया। पुलिस ने सूचना देने पर नामजद दो आरोपी को हिरासत में ले लिया। बाद में मामला झूठा पाया गया। माफी मांगने पर पुलिस ने पकड़े गए दोनों लोगों को हिदायत देकर छोड़ दिया। कस्बे के मोहल्ला इदरीश बेग बिहार कालोनी निवासी अब्बास उर्फ कल्लू ने मंगलवार की रात्रि में पुलिस को सूचना दी कि आधा दर्जन बदमाशों ने उसके घर में घुसकर हथियारों के बल पर मारपीट करते हुए तीन लाख रुपए की नगदी और सोने के कुंड़ल लूटकर फायरिंग करते हुए फरार हो गए। लूट की सूचना से पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। सूचना पर थाना प्रभारी निरीक्षक नरेश कुमार चौहान ने पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके से एक खोखा भी बरामद किया। बाद में अब्बास ने मोहल्ले के हीं जीजू, आसिफ और कयूम सहित कई लोगों के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। तहरीर मिलने पर पुलिस ने जीजू के घर पर दबिश दी, तो वह सोता हुआ मिला।

तृणमूल कांग्रेस का नोटबंदी पर राष्ट्रपति से हस्तक्षेप का अनुरोध

loading...

पुलिस ने जीजू को हिरासत में ले लिया। पुलिस पूछताछ में जीजू ने बताया कि रुपयों को लेकर कई दिन पूर्व उसकी मारपीट हुई थी। बाद में पुलिस ने अब्बास को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की, तो उसने सारा मामला उगल दिया।

मुलायम ने जड़ा रामगोपाल पर पार्टी तोड़ने का आरोप..बोले, अखिलेश रामगोपाल की ही मान रहा है !

घंटों तक हवालात में रहने के बाद माफी मांगने पर दोनों को सख्त हिदायत देते हुए छोड़ दिया। थाना प्रभारी निरीक्षक नरेश कुमार का कहना है कि लूट ओर फायरिंग का मामला जांच में झूठा पाया गया है। दोनों पक्षों को हिदायत देकर छोड़ दिया गया है।



loading...