कमर दर्द से बचने के लिए

कमर दर्द से बचने के लिए

– कमर दर्द किसी को भी किसी उम्र में हो सकता है। इसलिए उठने-बैठने, चलने फिरने के तौर तरीके सही रखें। हमेशा कमर सीधी कर बैठें।
– कमर झुकाकर न तो चलें, न बैठें। इस आदत से जल्दी छुटकारा पायें नहीं तो समस्या बढ़ सकती है।
– अगर बैठे हुए अलमारी या रैक से कुछ निकालना है तो पहले कुर्सी या बिस्तर से उठें, फिर निकालें नहीं तो दिक्कत हो सकती है।
– अपनी क्षमता से अधिक वजन न उठाएं। नरम बिस्तर पर न तो बैठें, न सोएं।
– अपने वजन को काबू में रखें, नियमित व्यायाम करें, स्ट्रेस से स्वयं को बचा कर रखें।
अंगदान के बारे में जानें
ञ्च नीतू गुप्ता
– अंगदान महादान है इसके लिए उम्र सीमा नहीं है। किसी उम्र में भी आप अपने अंगों का दान कर सकते हैं।
– 18 साल से अधिक उम्र वाले लोगों को अंगदान के लिए रजिस्ट्रेशन करा लेना चाहिए।
फलों और सूखे मेवों द्वारा संभव है रोगोपचार
– शरीर के अंगों में से किडनी, हार्ट, लिवर, स्किन, बोनस, पेनक्रि याज, लंग्स, इंटेस्टाइन, कार्निया दान में दे सकते हैं।
– बड़ी उम्र के लोग जो लगभग 80 साल से ऊपर हैं अपना लिवर और किडनी दान में दे सकते हैं।
– कैंसर, एचआईवी या इंफेक्शन से पीडि़त रोगी अपने अंगदान में नहीं दे सकते क्योंकि इनका प्रयोग ठीक नहीं है।
– नीतू गुप्ता

Share it
Share it
Share it
Top