एेसे बनाएं क्रिस्पी डोसा, रवा-डोसा और प्यार से फैमिली को खिलाएं..!

एेसे बनाएं क्रिस्पी डोसा, रवा-डोसा और प्यार से फैमिली को खिलाएं..!

 नीर-डोसा
सामग्री:- 1 कप कच्चे चावल, नमक स्वाद के अनुसार, चिकनाई के लिए तेल।
विधि:- कच्चे चावलों को पानी में दो घंटे भीगने दें। फिर पानी निथार कर एक तरफ रख दें। पानी की मदद से इसे पीस कर महीन पेस्ट बना लें। नमक और यदि आवश्यकता पड़े तो पानी की मदद से घोल का रूप दे दें। नॉन स्टिक तवे को गर्म करें। उसकी गर्माहट को आंकने के लिए पानी के छींटों का प्रयोग करें। अब चिकनाई लगा कर घोल को तवे पर डालें। इस घोल को ऊंचे से डालें और चम्मच से कतई न फैलाएं। डौसे को एक तरफ से पकाएं, यह ध्यान देते हुए कि वह भूरा न होने पाये। दो बार मोड़ कर लाल मिर्च और अदरक चटनी के साथ परोसें।
क्रिस्पी डोसा

सामग्री:- 1 कप काली उड़द दाल, 1 कप चनादाल, 1 कप बेसन, नमक स्वाद के अनुसार, पकाने के लिए तेल।
विधि:- उड़द चना दाल को गुनगुने पानी में चार घंटे भीगने दें। धोकर महीन पेस्ट बना लें। रातभर ढंककर खमीर उठने के लिए रख दें। अगले दिन इसमें बेसन, 1 कप पानी और नमक डालकर अच्छी तरह मिला लें। तवे को मध्यम आंच पर गर्म कर तली में चिकनाई लगाएं। अब इसमें घोल को फैलाएं और किनारों पर तेल डालकर पकाएं। सुनहरा भूरा हो जाने पर बीच में मोड़ लें और तवे से उतार कर गर्मा गरम परोसें।
संडे का दिन अपने लिए रखें..संडे के संडे करें अपनी देखभाल !

रवा-डोसा
सामग्री:- 1 कप रवा, 2 टी स्पून मैदा, ( कप दही, 2 बारीक कटी हरीमिर्च) टी स्पून जीरा, 2 टीन स्पून कसा हुआ नारियल, नमक स्वाद के अनुसार, पकाने के लिए तेल।
विधि:- रवा, दही, मैदा को आधा कप पानी की मदद से घोल तैयार कर लें। फिर इसे ढक कर 15 से 20 मिनट रखा रहने दें, अब इसमें हरी मिर्च, जीरा, नारियल और नमक डालकर मिला लें। पानी की मदद से घोल को पतला बना लें। नॉन स्टिक तवे को गर्म कर उस पर घोल डालकर तवे को हिलाएं। इससे डोसा पतला बनेगा। चारों तरफ तेल डालें और जब किनारे सुनहरे होने लगें, तब बीच से मोड़ लें। गर्मा गरम परोसें।
आज का मनुष्य नहीं है सुखी…अशांत मन से पैदा होती हैं बीमारियां..!

उड़द दाल डोसा
सामग्री:- 1 कप धुली काली उड़द, 1 कप अधकच्चे चावल, नमक स्वाद के अनुसार, पकाने के लिए तेल।
विधि:- दाल और चावल को धोकर तीन घंटे पानी में भीगने दें। फिर थोड़े पानी की मदद से महीन पेस्ट बना लें। खमीर के लिए पेस्ट को ढंककर लगभग आठ घंटे रखा रहने दें। घोल की तरलता पानी की मदद से ठीक कर लें। तवे को गर्म करें और तली पर चिकनाई लगाएं। अब इस पर घोल को डालें। फिर उसे गोल-गोल फैला दें। किनारों पर तेल डालकर पकाएं। जब निचली सतह सुनहरी हो जाये तब उसे मोड़ कर चटनी के साथ गर्मागरम परोसें।
– संजय कुमार सुमन

Share it
Share it
Share it
Top