एंकर निवेशकों के जरिये बीएसई ने 373 करोड़ रुपये जुटाये

एंकर निवेशकों के जरिये बीएसई ने 373 करोड़ रुपये जुटाये

मुम्बई । एशिया के सबसे पुराने शेयर बाजार बीएसई लिमिटेड ने 23 जनवरी को अपना प्रारंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) जारी करने से पहले एंकर निवेशकों को शेयर आवंटित करके 373 करोड़ रुपये की पूँजी जुटायी है। बीएसई के अनुसार, उसने 25 एंकर निवेशकों को शुक्रवार 20 जनवरी को 46,28,158 शेयर आवंटित करके कुल 3,73,02,95,348 रुपये की पूँजी जुटायी। एंकर निवेशक वैसे संस्थागत निवेशक होते हैं, जिन्हें आईपीओ के खुलने से एक कारोबारी दिवस पहले शेयर आवंटित किये जाते हैं। बीएसई के प्रवर्तकों के 1,54,27,157 शेयर बाजार में जारी किये जायेंगे। आईपीओ 25 जनवरी को बंद होगा। बीएसई की आईपीओ के जरिये करीब 1,250 करोड़ रुपये की पूँजी जुटाने की योजना है।
उसने दो रुपये अंकित मूल्य के शेयर का मूल्य दायरा 805-806 रुपये रखा है। एंकर निवेशकों को इस दायरे की उच्चतम सीमा 806 रुपये प्रति शेयर पर शेयर आवंटित किये गये हैं। देश में पहली बार कोई शेयर बाजार आईपीओ ला रहा है और इसे नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) में आगामी 03 फरवरी को सूचीबद्ध किया जायेगा। पूँजी बाजार नियामक सेबी के नियमों के तहत कोई भी शेयर बाजार अपने शेयर को स्वयं के प्लेटफार्म पर सूचीबद्ध नहीं कर सकता है। बीएसई के 302 शेयरधारक हैं, जो आईपीओ के जरिये अपने शेयर बेचना चाहते हैं। सिंगापुर स्टॉक एक्सचेंज अपनी पूरी हिस्सेदारी यानी 4.70 प्रतिशत या 50 लाख नौ हजार शेयर बेचेगा। इसके अलावा एटीकस मॉरीशस 3.68 प्रतिशत, क्वांटम लिमिटेड, जेकेएफएफ वेंचर्स, एकैसिया बनयान पाटनर्स लिमिटेड, इंडिया होल्डिंग लिमिटेड और बजाज होल्डिंग्स एंड इनवेस्टमेंट लिमिटेड ऐसे शेयरधारक हैं, जो अाईपीओ के जरिये अपनी हिस्सेदारी बेचेंगे। स्टॉक एक्सचेंज के अनुसार, कम से कम 18 शेयरों के लिए बोली लगानी होगी तथा इसी गुणांक में अधिक शेयर जारी किये जायेंगे।
 

Share it
Top