इस तरह अपने नाखूनों को बनाएं स्वस्थ और सुंदर

इस तरह अपने नाखूनों को बनाएं स्वस्थ और सुंदर

healthy-nails हमारे नाखून कमजोर कई कारणों से हो सकते हैं जैसे अपौष्टिक आहार, नेल पालिश में मिले रसायन, कैल्शियम की कमी आदि। कमजोर नाखून बहुत नाजुक होने के कारण बार बार टूट जाते हैं। कमजोर नाखून हाथों की खूबसूरती छीन लेते हैं। नाखूनों को स्वस्थ और सुंदर बनाए रखना जरूरी है।
लें पर्याप्त प्रोटीन:-

नाखून को कमजोर होने से बचाने के लिए यह आवश्यक है कि भोजन में पर्याप्त प्रोटीन लिया जाए। सही खान-पान आपके नाखनों को स्वस्थ बना सकता है। आप नाखून की मजबूती के लिए दूध व दही का नियमित सेवन करें ताकि नाखूनों की मजबूती बनी रहे।
करें ऑयल का प्रयोग:-
नाखूनों के आसपास की ड्राइनेस हटाने के लिए और क्यूटिकल की केयर के लिए आलिव ऑयल लगाएं। इससे नाखून साफ्ट व मजबूत रहेंगे। आप मेनीक्योर करवाने के बाद हैंड क्रीम या विटामिन ई युक्त क्यूटिकल आयल, क्रीम से मालिश करें। सप्ताह में एक बार नाखूनों और उसके आसपास तेल लगाकर मालिश करें।
नाखूनों की मजबूती के साथ चमक बनी रहेगी।
नेल पालिश और रिमूवर:-
नेल पालिश का ज्यादा प्रयोग भी नाखूनों को कमजोर बनाता हे। अगर नेल पेंट आधा उतर चुका है तो उसे रिमूवर से पूरा हटा लें नहीं तो नाखून कमजोर हो जाएंगें। इसके अतिरिक्त ऐसे रिमूवर का प्रयोग करें जो एसिटोन मुक्त हो। एसिटोन युक्त रिमूवर नाखूनों को रूखा बनाता
है।
नाखूनों को फाइल करें:-
नाखून जितने बढ़ते जाते हैं, उतने ही वे कमजोर होते जाते हैं। नाखूनों के खुरदरे किनारों को गोलाकार में फाइल करें। मेटल नेल फाइलर से नाखून ठूंठ जैसे कड़े हो जाते हैं, इसलिए जिसकी ग्रिट सॉफ्ट हो, उस फाइलर का प्रयोग करें। जरूरत से जयादा फाइल करने से नाखूनों के कोने में दर्द महसूस होता है और नाखून कमजोर पड़ जाते हैं क्योंकि किनारे नाखूनों को सपोर्ट देते हैं।
पानी से बचें:-
नाखून पानी में अधिक रहने से भी टूटते हैं। पानी में ज्यादा देर तक अपने हाथ न रखें। जब नाखून नर्म हो या पानी में भीगे हुए हों, तब फाइलिंग ना करें। गीले हाथ होने पर नाखूनों को भी सुखाएं।
नाखूनों पर लाएं शाइन:-
नाखूनों पर एक्स्ट्रा शाइन लाने के लिए और नेल पेंट नाखूनों से जल्दी न उतर जाए, इसके लिए नेल पेंट के 2 कोट लगाने के बाद तीसरा ट्रांसपेरेंट नेल पेंट लगाएं ताकि नाखूनों की चमक बनी रहे।
नेल पेंट बेस:-
नाखूनों को सुरक्षित रखने के लिए और जल्दी टूटने से बचाने के लिए नेल पेंट बेस लगाएं। नेल पेंट बेस अभी सिर्फ गिनी चुनी कंपनियां ही बनाती हैं। इसके प्रयोग से नाखून सुरक्षित रहते हैं।
कैल्शियम की कमी:-
कभी कभी नाखूनों पर सफेद दाग या धारियां उभर आएं तो समझ लें आपको कैल्शियम की कमी है। कुछ दिन अपने नाखूनों पर नेल पेंट न लगाएं और नाखूनों को प्राकृतिक रूप से सांस लेने का अवसर दें।
ग्लवस पहन कर करें काम:- बर्तन साफ करते समय डस्टिंग के लिए, बगीचे की देखभाल करते हुए ग्लव्स का प्रयोग करें।
माश्चराइजर लगाएं:-
यह महत्त्वपूर्ण होगा कि नाखून को कमजोर होने से बचाने के लिए नियमित माश्चराइजर लगाएं। इससे नाखूनों की कंडीशनिंग हो जाती है और प्राकृतिक नमी बरकरार रहती है।
– शिवांगी झाँबआप ये ख़बरें अपने मोबाइल पर पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल unnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे.

Share it
Share it
Share it
Top