इज्जत उतरे और कानून बने तमाशाई

इज्जत उतरे और कानून बने तमाशाई

उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खान ने महिलाओं का अपमान करने वालों के खिलाफ बयान देते हुए सोशल मीडिया पर भी जमकर निशाना साधा है। आजम का कहना है कि ‘ये कहां की शराफत है कि चन्द अल्फाज पढ़ लेने, पतलून पहन लेने और अंग्रेजी बोलने के बाद फेसबुक पर किसी को किसी की बहन बेटी की इज्जत से खिलवाड़ करने का हक मिल जाता है! कानून को ऐसे लोगों को चीर कर रख देना चाहिए। आजम ने फेसबुक के बहाने अदालत और पुलिस पर भी निशाना साधा और कह दिया कि फेसबुक पर लोगों की इज्जत उतारी जाए और कानून तमाशाई बना रहे। बात तो सही है लेकिन उन्हें भी समझना होगा कि इसके लिए बहुत हद तक गंदी राजनीति भी जिम्मेदार है, जो सिर्फ इसलिए मामले उठाने और हंगामा करने का अवसर तलाशती रहती है कि उनका वोटबैंक मजबूत होता रहे। अगर ऐसा नहीं है तो कोई वजह नहीं कि कानून अपना काम ईमानदारी से करे और अपराधी जेल के सीखचों के पीछे न हों।

Share it
Top