इकतरफा प्रेम में कोचिंग हेल्पर ने बनाई छात्रा की फर्जी फेसबुक आईडी

इकतरफा प्रेम में कोचिंग हेल्पर ने बनाई छात्रा की फर्जी फेसबुक आईडी

जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर साइबर अपराध पुलिस ने एक कोचिंग में पढऩे वाली छात्रा के इकतरफा प्रेम में पागल होकर उसकी फर्जी फेसबुक आईडी बनाने के आरोप में कोचिंग के पूर्व हेल्पर को गिरफ्तार किया है। साइबर क्राइम पुलिस की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक स्थानीय निवासी फरियादी ज्योति (परिवर्तित नाम) ने लिखित शिकायती आवेदन में बताया कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने उसके नाम एवं फोटो का उपयोग कर फेसबुक पर फर्जी आईडी बना ली है। पुलिस ने विवेचना में पाया कि आरोपी ने पुलिस से बचने हेतु अलग-अलग साइबर कैफे का उपयोग कर फर्जी आईडी चलाई है। साक्ष्यों में पाया गया कि किसी इन्द्रलाल मरावी नाम के व्यक्ति की ओर से फर्जी आईडी एक्सैस की जा रही है। पुलिस से बचने के लिये मूल तौर पर मंडला का रहने वाला इन्द्रलाल मरावी पिछले दो साल से फरार था और उस पर दो हजार रुपए का इनाम भी था।


http://www.royalbulletin.com/मुजफ्फरनगर-किसान-ऋण-माफी/

आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद उसने पूछताछ में बताया कि वह कोचिंग में पढने वाली छात्रा को पहले से ही जानता है और पसन्द करता है। आपस की दोस्ती में मनमुटाव आ जाने और बात न होने के कारण उसने लड़की की फर्जी फेसबुक आईडी बनाई थी। आईडी को असली दिखाने के लिये लड़की के फोटो का उपयोग किया था। सायबर अपराध पुलिस ने लोगों को साइबर क्राइम से बचने के तरीकों से जागरूक करते हुए सभी से निवेदन किया है किसी भी प्रकार की सोशल नेटवर्किंग जैसी साइट््स पर अपनी गोपनीय जानकारी शेयर न करें। इसका दुरुपयोग भी हो सकता है।

Share it
Share it
Share it
Top