इंग्लैंड के नये टेस्ट कप्तान बने जो रूट

इंग्लैंड के नये टेस्ट कप्तान बने जो रूट

लंदन। इंग्लैंड ने भरोसेमंद बल्लेबाज जो रूट को एलेस्टेयर कुक की जगह इंग्लैंड क्रिकेट टीम का नया टेस्ट कप्तान नियुक्त कर दिया है। कुक ने चार वर्ष से अधिक समय तक यह जिम्मेदारी संभालने के बाद गत सप्ताह अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।
इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड(ईसीबी) ने सोमवार को रूट को नया कप्तान बनाने की पुष्टि कर दी। कुक ने भारत दौरे पर मिली 0-4 की हार के बाद स्वदेश लौटकर टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ दी थी। रूट को इंग्लैंड टीम के नये कप्तान और बेन स्टोक्स को उपकप्तानी की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। 26 साल के रूट मौजूदा दौर के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार हैं और वह कुक की जगह लेने के दावेदारों में सबसे आगे चल रहे थे। रूट वर्ष 2015 में टीम के उपकप्तान थे और अब ईसीबी ने उन्हें राष्ट्रीय टीम की कमान सौंप दी है। रूट ने गत सप्ताह इंग्लैंड क्रिकेट के निदेशक एंड्रयू स्ट्रास से भी मुलाकात की थी। हालांकि उन्हें अपनी पहली टेस्ट कप्तानी के लिये पांच महीने का इंतजार करना होगा जब इंग्लैंड की टीम जुलाई में दक्षिण अफ्रीका की मेजबानी करेगी। रूट ने वर्ष 2012 में कुक की कप्तानी में पदार्पण किया था और वह टीम के स्टार बल्लेबाजों में हैं। रूट के अलावा बेन स्टोक्स और स्टुअर्ट ब्राड ने भी स्ट्रास से मुलाकात की है। स्टोक्स को नया उपकप्तान बनाया गया है।
सहारनपुर में अमित शाह बोले, यूपी में सत्ता परिवर्तन के लिए जनता ज्यादा से ज्यादा करे वोट
रूट ने 53 टेस्टों के अपने करियर में अब तक 11 शतकों और 27 अर्धशतकों सहित 4594 रन बनाये हैं। उनका औसत 52.80 का है और भारत के विराट कोहली तथा न्यूजीलैंड के केन विलियम्सन का उनका नाम मौजूदा समय में दुनिया के शीर्ष बल्लेबाजों में शुमार होता है। रूट ने कहा, इंग्लैंड की टेस्ट कप्तानी मेरे लिये सम्मान की बात है। मैं खुद को गौरवान्वित और रोमांचित महसूस कर रहा हूं। हमारे पास अच्छे खिलाडियों का समूह है और हम कुक की उपलब्धियों पर टीम को बेहतर बनाने की कोशिश करेंगे। ड्रैङ्क्षसग रूम में सीनियर खिलाडियों की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी जिनके मार्गदर्शन में युवा खिलाड़ी आगे बढ़ेंगे। नये कप्तान को हालांकि एक प्रतिभाशाली टीम मिली है लेकिन यदि कुक के शब्दों को देखा जाए तो इसमें कुछ ठहराव सा आ गया है। इंग्लैंड ने 2016 में खेले गये 17 टेस्टों में आठ गंवाये हैं जिनमें से छह हार तो हाल में खेले गये आठ टेस्टों में शामिल थी।
उप्र में दूसरे चरण का चुनाव प्रचार थमा…15 फरवरी को होगा मतदान
कुक ने स्वीकार किया था कि ड्रैसिंग रूम में एक नयी आवाज और जोश की जरूरत है। इंग्लैंड ने रूट में इस नये जोश को ढूंढा है। कुक ने हालांकि मात्र प्रथम श्रेणी मैचों में ही कप्तानी की जिम्मेदारी संभाली है लेकिन लगभग दो वर्ष तक टीम का उपकप्तान रहने के बाद उन्हें नेतृत्व करने का अच्छा खासा अनुभव हो गया है। कप्तान पद के एक अन्य उम्मीदवार और तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्राड ने भी माना है कि रूट कप्तानी के लिये पूरी तरह आदर्श हैं।

Share it
Top