इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज मेरे करियर की दिशा बदलने वाली रही: जाधव

इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज मेरे करियर की दिशा बदलने वाली रही: जाधव

नागपुर। इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में धमाकेदार प्रदर्शन करने वाले टीम इंडिया के उभरते सितारे केदार जाधव ने कहा कि मेहमान टीम के खिलाफ वनडे सीरीज उनके करियर का ‘टर्निंग पॉइंट’ रही है और इसने उनके करियर को नयी दिशा दी है। जाधव ने मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते हुये इस सीरीज में 232 रन बनाये थे। उन्होंने सीरीज में एक शतक तथा एक अर्धशतक जमाया था और उनके इस प्रदर्शन के लिये उन्हें ‘मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार से नवाजा गया। जाधव ने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ पुणे के पहले वनडे मैच में शतक जमाने के बाद मैंने सोचा था कि यदि मैं अपने प्रदर्शन में निरंतरता रखूं तो मैन ऑफ द सीरीज बन सकता हूं। जाधव ने पहले वनडे में 76 गेंद में 120 रन बनाकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभायी थी।
वोटर कार्ड नहीं हो तो… इन 12 विकल्पों से डालें वोट..!
उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज मेरे करियर की दिशा बदलने वाली रही। हालांकि इससे पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में किये गये प्रदर्शन से मेरे आत्मविश्वास में बढ़ोत्तरी हुई थी। मैंने न्यूजीलैंड के खिलाफ भले ही बड़ी पारियां नहीं खेलीं थीं फिर भी जो भी खेला वह विश्वास से खेला। भारत के लिये देर से खेलने के मौके के बारे में उन्होंने कहा, मुझे देरी से जरूर मौका मिला लेकिन मैं तब परिपक्व नहीं था। मेरे खेल में कमियां थी और जैसे ही मैं संपूर्ण खिलाड़ी बना तो मुझे मौका मिल गया और मुझे खुशी है कि मैं इसका फायदा उठा पाया। उन्होंने कप्तान विराट कोहली को एक बड़ी प्रेरणा बताया।

Share it
Top